वियतनाम में ट्रंप के साथ शिखर वार्ता करेंगे किम जोंग उन, अपनी रहस्यमयी ट्रेन से हुए रवाना

प्योंगयांग से शनिवार को रवाना हुआ किम का बख्तरबंद काफिला में शामिल ट्रेन सोमवार अपराह्न 1.10 बजे चीन के केंद्रीय प्रांत हुनान की राजधानी चांग्शा से गुजर चुकी थी.

वियतनाम में ट्रंप के साथ शिखर वार्ता करेंगे किम जोंग उन, अपनी रहस्यमयी ट्रेन से हुए रवाना
फाइल फोटो

हनोई: उत्तर कोरिया के शीर्ष नेता किम जोंग उन को लेकर वियतनाम आ रही एक रेलगाड़ी सोमवार को चीनी शहर चांग्शा से गुजर चुकी है और उनके मंगलवार को पहुंचने की उम्मीद है, जहां वे अपने आधिकारिक दौरे के बाद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से दूसरी शिखर वार्ता के लिए मुलाकात करेंगे. यहां दो दिवसीय सम्मेलन के शुरू होने से दो दिन पहले, किम का काफिला कड़ी सुरक्षा और गोपनीयता के साथ हनोई तक के अपने 4,000 किलोमीटर लंबे सफर पर हैं.

एक सूत्र ने दक्षिण कोरियाई समाचार एजेंसी योंहाप को बताया कि प्योंगयांग से शनिवार को रवाना हुआ किम का बख्तरबंद काफिला सोमवार अपराह्न 1.10 बजे चीन के केंद्रीय प्रांत हुनान की राजधानी चांग्शा से गुजर चुकी थी. सूत्र के अनुसार, दक्षिण की तरफ यात्रा शुरू करने से पहले ट्रेन चांग्शा रेलवे स्टेशन पर लगभग आधा घंटा के लिए रुकी. काफिला बाद में वियतनाम की सीमा से लगे पिंगजियांग जाने से पहले दक्षिण चीनी शहर नानिंग से गुजरा होगा.

कुछ विशेषज्ञों ने कहा है कि ट्रेन सीमा की तरफ बढ़ने से पहले गुआंगझाओ को पार करने के लिए दक्षिण-पूर्व में चक्कर लगा सकती है, हालांकि काफिले की यात्रा संबंधी कोई आधिकारिक जानकारी नहीं है. लगभग 55 साल में किम पहले नेता हैं जो मंगलवार को डोंगडांग से होते हुए यहां आ रहे हैं और यहां से कार द्वारा हनोई जाएंगे. किम यहां वियतनाम का आधिकारिक दौरा कर रहे हैं. माना जा रहा है कि उनकी बख्तरबंद कार ट्रेन में उनके साथ ही आ रही है. हनोई से 170 किलोमीटर पश्चिमोत्तर में स्थित डोंगडांग रेलवे स्टेशन रविवार से जनता के लिए बंद है और दो मार्च तक बंद रहेगा.

(इनपुट आईएएनएस से)