close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कुवैत में बढ़ेगी प्रवासियों की मुश्किलें, नौकरी करना नहीं होगा आसान

कुवैत की एक सांसद ने देश में बढ़ती विदेशियों की संख्या को कम करने के लिए प्रवासियों के रोजगार पर 10 साल की अवधि की सीमा लगाने की मांग की है. यह सांसद देश में प्रवासियों की बढ़ती संख्या के खिलाफ मुहिम का नेतृत्व कर रही हैं. सांसद सफा अल हाशेम ने कुवैत के प्रमुख समाचार पत्र 'अल नाहर' से मंगलवार को कहा कि कुछ को छूट दी जा सकती है लेकिन केवल एक बार और वह भी बहुत ही विशेष मामलों में. उन्होंने कहा, "इसका उद्देश्य कुवैत में विदेशी नागरिकों की वृद्धि को देखते हुए यहां के नागरिकों को देश में रोजगार पाने में मदद करना है." 

 कुवैत में बढ़ेगी प्रवासियों की मुश्किलें, नौकरी करना नहीं होगा आसान
कुवैत में 44 लाख लोग रह रहे हैं और इनमें 31 लाख प्रवासी और 13 लाख कुवैती हैं.

कुवैत सिटी: कुवैत की एक सांसद ने देश में बढ़ती विदेशियों की संख्या को कम करने के लिए प्रवासियों के रोजगार पर 10 साल की अवधि की सीमा लगाने की मांग की है. यह सांसद देश में प्रवासियों की बढ़ती संख्या के खिलाफ मुहिम का नेतृत्व कर रही हैं. सांसद सफा अल हाशेम ने कुवैत के प्रमुख समाचार पत्र 'अल नाहर' से मंगलवार को कहा कि कुछ को छूट दी जा सकती है लेकिन केवल एक बार और वह भी बहुत ही विशेष मामलों में. उन्होंने कहा, "इसका उद्देश्य कुवैत में विदेशी नागरिकों की वृद्धि को देखते हुए यहां के नागरिकों को देश में रोजगार पाने में मदद करना है." 

अल हाशेम ने कहा, "सरकार को विदेशी नागरिकों के माता-पिता को छोड़कर उनके साथ आने वाले परिवार के सदस्यों पर भी प्रतिबंध लगा देना चाहिए. इस तरह के मामलों में सभी चिकित्सा संबंधी जरूरतों को प्रवासियों द्वारा वहन किया जाना चाहिए, न कि राज्य द्वारा." उन्होंने कहा, "यहां यह सुनिश्चित करने की तुरंत आवश्यकता है कि ई-सरकार बड़ी कंपनियों की विदेशी श्रमशक्ति संबंधी वास्तविक जरूरतों को पूरा करती है. हम लगातार इन आंकड़ों पर निर्भर नहीं रह सकते, जो एक खतरनाक जनसांख्यिकीय अफरातफरी के लिए जिम्मेदार हैं."

सांसद ने घरेलू सहायकों को छोड़कर विदेशों से आयातित होकर आ रही श्रमशक्ति की फीस 100 प्रतिशत बढ़ाने की बात भी कही. उन्होंने कहा कि उच्चतर कीमतें लोगों और कंपनियों को विदेशी नागरिकों को चुनने के आसान विकल्प पर दोबारा सोचने पर मजबूर करेंगी. हालांकि, घरेलू सहायकों के लिए मेहनताना बढ़ाने का मतलब कुवैत के लोगों द्वारा अतिरिक्त खर्च करना होगा.

बता दें कुवैत में 44 लाख लोग रह रहे हैं और इनमें 31 लाख प्रवासी और 13 लाख कुवैती हैं. रिपोर्ट के अनुसार, कई देशों के कम से कम छह लाख लोग कुवैत में घरेलू सहायक के रूप में कार्यरत हैं.