मलाला यूसुफजई बनी सदी की सबसे प्रसिद्ध किशोरी: संयुक्त राष्ट्र

2011 में सीरिया (Syria) में संघर्ष की शुरुआत और लड़कियों की शिक्षा के लिए किए गए मलाला के काम को भी हाईलाइट किया गया है.

मलाला यूसुफजई बनी सदी की सबसे प्रसिद्ध किशोरी: संयुक्त राष्ट्र
(फाइल फोटो)

इस्लामाबाद: संयुक्त राष्ट्र(United Nations) ने पाकिस्तानी शिक्षा कार्यकर्ता और नोबल पुरस्कार (Nobel Prize) विजेता मलाला यूसुफजई (Malala Yousafzai) को 'डिकेड इन रिव्यू' रिपोर्ट में 'विश्व की सबसे प्रसिद्ध किशोरी' घोषित किया है. द न्यूज इंटरनेशनल की गुरुवार को रिपोर्ट के अनुसार, अपने रिव्यू सीरीज (साल 2010 से 2013 भाग) में संयुक्त राष्ट्र ने साल 2010 में आए हैती के भूकंप, 2011 में सीरिया (Syria) में संघर्ष की शुरुआत और लड़कियों की शिक्षा के लिए किए गए मलाला के काम को भी हाईलाइट किया गया है.

संयुक्त राष्ट्र ने रिव्यू रिपोर्ट में लिखा है, "इस हमले का असर दुनियाभर में हुआ था और व्यापक तौर पर इसकी निंदा की गई थी. हर लड़की को स्कूल जाने का अधिकार दिलाने के लिए और लड़कियों के एडवांस शिक्षा को प्राथमिकता देने के लिए किए गए कार्य को देखते हुए मानव अधिकार दिवस पर यूनेस्को (Unesco) के पेरिस (Paris) स्थित मुख्यालय में मलाला को खास सम्मान दिया गया था." हाल ही में दशक के आखिरी मुद्दे पर आधारित पुस्तिका 'टीन वोग' के कवर पेज के लिए 22 वर्षीय मलाला को चुना गया था.

ये भी देखें...

(इनपुट: एजेंसी आईएएनएस)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.