Sri Lanka के समुद्री तट पर सामने आई नई त्रासदी, Turtles, Dolphin समेत कई समुद्री जीवों के मिले शव

श्रीलंका के समुद्री पर्यावरण संरक्षण प्राधिकरण ने कहा है कि इस कंटेनर जहाज के जलने से पर्यावरण को बहुत नुकसान हुआ है. 

Sri Lanka के समुद्री तट पर सामने आई नई त्रासदी, Turtles, Dolphin समेत कई समुद्री जीवों के मिले शव
(फोटो: एएफपी)

कोलंबो: हाल ही में X-Press Pearl कंटेनर शिप के साथ हुए हादसे के बाद यहां कई समुद्री जीवों की मौत का मामला सामने आया है. श्रीलंकाई सरकार (Sri Lankan government) के अधिकारियों ने कहा है कि एक्स-प्रेस पर्ल कंटेनर जहाज के जलने के बाद इस तटीय देश के समुद्र तटों पर 10 से ज्‍यादा कछुओं (Turtles), एक डॉल्फिन (Dolphin), कई मछलियों और पक्षियों के शव बहकर आए हैं.

मौत का कारण जानने हो रही जांच 

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, वन्यजीव संरक्षण विभाग के अधिकारियों ने रविवार को एक बयान जारी करके कहा है कि इन समुद्री जीवों की मौत के कारणों का पता लगाने के लिए जांच की जा रही है. ये मृत समुद्री जीव उत्तर पश्चिम में पुट्टलम से लेकर दक्षिण में मिरिसा तक के समुद्र तटों पर मिले हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक दक्षिण में उनावटुना बीच पर 2 घायल कछुए भी मिले हैं. 

यह भी पढ़ें: सबसे बुजुर्ग नर Chimpanzee की San Francisco जू में मौत

VIDEO

जांच में शामिल एक अधिकारी ने स्थानीय डेली मिरर अखबार को बताया, 'पनादुरा और वेलवाटे के समुद्र तटों पर मृत मिले अधिकांश कछुओं के कवच टूटे हुए थे. उनावटुना समुद्र तट पर मिले कछुआ के शरीर पर कई घाव हैं.' उम्‍मीद है कि जांच का फोकस समुद्री जीवों की मृत्यु और एक्स-प्रेस पर्ल कंटेनर जहाज जलने के बीच की कड़ी पर होगा. 

पिछले महीने लगी थी आग 

सिंगापुर का यह जहाज 15 मई को भारत से जा रहा था. इस जहाज में 25 टन नाइट्रिक एसिड और कई अन्य रसायनों से भरे 1,486 कंटेनर लदे हुए थे. 20 मई को कोलंबो (Colombo)बंदरगाह के करीब इसमें आग लग गई. आग पर काबू पाने के लिए श्रीलंका की नेवी ने अपने जहाज भेजे थे. 

पर्यावरण को हुआ खासा नुकसान 

श्रीलंका (Sri Lanka) के समुद्री पर्यावरण संरक्षण प्राधिकरण ने कहा है कि इस जलपोत में आग लगने से बड़ी पर्यावरणीय आपदा आई है. इसका मलबा बहकर कई समुद्र तटों पर पहुंचा है. वहीं सरकार ने कहा है कि आग के कारण हुए प्रदूषण से बड़ी संख्या में समुद्री जीव मारे गए हैं. हादसे के बाद से यहां के मत्स्य विभाग ने दक्षिणी से पश्चिमी तट तक मछली पकड़ने पर अस्थायी प्रतिबंध लगा दिया है.

वर्तमान में एक्स-प्रेस पर्ल जहाज में आग लगने के कारणों की जांच चल रही है. रविवार को जांच कर रहे अधिकारियों को जहाज के कैप्‍टन, जहाज की कंपनी और स्थानीय शिपिंग एजेंट के बीच हुए संवाद का डेटा मिला है. नेवी ने कहा है कि जहाज से तेल के रिसाव होने के बारे में अभी पता नहीं चला है. 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.