ट्रंप-पुतिन की लंबी मीटिंग खत्म करने पहुंची मेलानिया, नहीं हो सकीं कामयाब

ट्रंप-पुतिन की लंबी मीटिंग खत्म करने पहुंची मेलानिया, नहीं हो सकीं कामयाब
ट्रंप-पुतिन की लंबी मीटिंग खत्म करने पहुंची मेलानिया, नहीं हो सकी कामयाब (फोटोः एएनआई)

नई दिल्लीः जर्मनी के हैम्बर्ग में चल रहे जी-20 सम्मेलन इतर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के बीच एक अनौपचारिक बातचीत हुई. दोनों नेताओं के बीच ये पहली मुलाकात थी, इसी का नतीजा था कि ये मुलाकात इतनी लंबी चली की तय समय बीतने के काफी देर गुजर जाने के बाद भी दोनों नेता बात करते रहे.

इस बीच ये भी खबरें आई कि इस मुलाकात के लंबा खींचने के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति की पत्नी मेलानिया ट्रंप को उनके पति राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और रूसी नेता व्लादिमीर पुतिन के बीच की चल रही बैठक को जल्द खत्म कराने के लिए भेजा गया था. लेकिन वो भी इसमें सफल नहीं हुईं.

इसकी जानकारी खुद अमेरिका के विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने दी. टिलरसन के मुताबिक, पुतिन और ट्रंप की आपस में इतनी अच्छी जम गई कि मुलाकात का समय खत्म हो जाने के बाद भी वे एक-दूसरे के साथ बात करते रहे. टिलरसन ने मीडिया को बताया, 'ट्रंप और पुतिन बातों में इतने मशगूल हो गए थे कि दोनों में से कोई भी मीटिंग खत्म करने को तैयार ही नहीं था. कई बार मैंने राष्ट्रपति ट्रंप को याद दिलाया कि लोग दरवाजे के बाहर अपना सिर लगाकर खड़े हैं.

मुझे लगता है कि उन्होंने फर्स्ट लेडी मेलानिया ट्रंप को भी इस उम्मीद में वहां भेजा कि शायद वह इस मीटिंग को खत्म करा पाएंगी, लेकिन यह तरीका भी काम नहीं आया. मेलानिया के आने के बाद भी एक घंटे तक मीटिंग चलती रही, तो जाहिर है कि फर्स्ट लेडी भी अपनी कोशिशों में कामयाब नहीं हो पाईं.'

NBC का कहना है कि ट्रंप और पुतिन के बीच करीब 2 घंटे तक बातें होती रहीं. उधर, जी-20 सम्मेलन के विरोध में होने वाले प्रदर्शनों के कारण मेलानिया पूरे दिन एक होटल में फंसी रहीं. मेलानिया सहित बाकी राष्ट्राध्यक्षों की पत्नियों को कई कार्यक्रमों में शामिल होना था, लेकिन प्रदर्शनों के कारण इनमें से कई को रद्द करना पड़ा.