जर्मनी: एंजेला मर्केल की सहयोगी ने हासिल की जीत, चौथे कार्यकाल की संभावना बढ़ी

 जर्मनी की सत्ताधारी पार्टी के नेतृत्व के संघर्ष में अपनी करीबी नेता की जीत से एंजेला मर्केल के लिए चौथे कार्यकाल की संभावना प्रबल हो गयी है

जर्मनी: एंजेला मर्केल की सहयोगी ने हासिल की जीत, चौथे कार्यकाल की संभावना बढ़ी
मर्केल (64) की पार्टी का सम्मेलन शनिवार को हैमबर्ग में संपन्न हुआ.(फाइल फोटो)

हैमबर्ग: जर्मनी की सत्ताधारी पार्टी के नेतृत्व के संघर्ष में अपनी करीबी नेता की जीत से एंजेला मर्केल के लिए चौथे कार्यकाल की संभावना प्रबल हो गयी है हालांकि दुनिया की ‘‘सबसे प्रभावशाली महिला’’ को 2019 में नयी चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है. मर्केल (64) की पार्टी क्रिश्चियन डेमोक्रेट यूनियन (सीडीयू) का सम्मेलन शनिवार को हैमबर्ग में संपन्न हुआ. इसमें एनाग्रेट क्रेंप कैरेनबावर पार्टी की नयी नेता चुनी गयीं. वह 18 वर्षों से इस पद पर काबिज मर्केल का स्थान लेंगी. स्थानीय मीडिया ने एनाग्रेट क्रेंप कैरेनबावर को ‘‘मिनी मर्केल’’ की संज्ञा दी है और अब वह देश के अगले आम चुनाव में जर्मनी की सबसे पार्टी का नेतृत्व करेंगी. अगला चुनाव 2021 में होना है.

कई चुनावी हारों के बाद मर्केल ने अक्टूबर में घोषणा की थी कि वह पार्टी प्रमुख के लिए मैदान में नहीं उतरेंगी. मर्केल के चांसलर पद से हटने के बाद एनाग्रेट क्रेंप कैरेनबावर के चांसलर बनने की भी संभावना बढ़ गयी है. फोर्ब्स ने एक बार फिर जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल को दुनिया की सबसे प्रभावशाली महिला घोषित किया है. सीडीयू सम्मेलन में एनाग्रेंट क्रेंप ने करोड़पति कारोबारी फ्रेड्रिक मर्ज़ को एक करीबी मुकाबले में पराजित किया.  

इनपुट भाषा से भी