मेक्सिको ने अमेरिका को व्यापार समझौते को चुनावी राजनीतिक मुद्दों से दूर रखने की दी हिदायत
topStorieshindi

मेक्सिको ने अमेरिका को व्यापार समझौते को चुनावी राजनीतिक मुद्दों से दूर रखने की दी हिदायत

अमेरिकी हाउस स्पीकर नैंसी पेलोसी ने गुरुवार को कहा कि अमेरिकी कांग्रेस इस साल संधि पर मतदान कर सकती है.

मेक्सिको ने अमेरिका को व्यापार समझौते को चुनावी राजनीतिक मुद्दों से दूर रखने की दी हिदायत

मेक्सिको सिटी: मैक्सिकन राष्ट्रपति एंद्रेस मैनुअल लोपेज ओब्रादोर ने अमेरिकी विधायकों से कहा है कि वे नए उत्तर अमेरिकी मुक्त व्यापार समझौते के अनुसमर्थन को आंतरिक राजनीतिक मुद्दों को न उलझाएं. समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, राष्ट्रपति ने शुक्रवार को कहा, "हम पूरे सम्मान के साथ दोनों दलों (रिपब्लिकन और डेमोक्रेट्स) के सांसदों से कहते हैं कि वे हमारी मदद करें और संधि की मंजूरी के साथ चुनावी राजनीतिक मुद्दे को न मिलाएं."

राष्ट्रपति ने कनाडा (Canada), अमेरिका (America) और मेक्सिको (Mexico) का जिक्र करते हुए कहा, "संधि के अनुसार, मेरा मानना है कि तीनों देशों के लोगों के बीच पर इसे लेकर सहमति या बड़े पैमाने पर स्वीकृति है." लोपेज ओब्रादोर ने कहा कि मेक्सिको-अमेरिका-कनाडा संधि (टी-एमईसी) को राजनीतिक मतभेदों के में नहीं उलझाना चाहिए क्योंकि इससे क्षेत्र के आर्थिक विकास को लाभ नहीं होगा.

LIVE TV...

अमेरिका के रिपब्लिकन पार्टी के सांसदों ने आशंका व्यक्त की है कि 2020 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव और डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के खिलाफ महाभियोग के मुकदमे की संभावना के चलते टीएमईसी को अनुसमर्थन की प्रक्रिया को अगले साल तक जारी रखने की संभावना कम हो जाएगी.

हालांकि, अमेरिकी हाउस स्पीकर नैंसी पेलोसी ने गुरुवार को कहा कि अमेरिकी कांग्रेस इस साल संधि पर मतदान कर सकती है. टी-एमईसी समझौता उत्तर अमेरिकी मुक्त व्यापार समझौते की जगह लेगा, जो 1994 में प्रभावी हुआ था. प्रभाव में आने के लिए, टी-एमईसी को तीनों देशों की संसद से अनुमोदन की आवश्यकता है. अब तक सिर्फ मेक्सिकन सीनेट ने ही इसे मंजूरी दी है.

Trending news