उत्तर-पूर्वी सीरिया में तुर्की के सैन्‍य अभियान से गुस्‍साया अमेरिका, कही ये बड़ी बात...

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, विदेश विभाग द्वारा जारी बयान में कहा गया कि दोनों नेताओं ने तुर्की के सैन्य अभियान पर चिंता व्यक्त की और कहा कि अंकारा को इसे तुरंत रोकने की जरूरत है.

उत्तर-पूर्वी सीरिया में तुर्की के सैन्‍य अभियान से गुस्‍साया अमेरिका, कही ये बड़ी बात...
अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो का फाइल फोटो...

वॉशिंगटन : अमेरिका (US) के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो (Mike Pompeo) ने इराक के राष्ट्रपति बरहम सलीह से फोन पर बात कर उत्तर-पूर्वी सीरिया में चल रहे तुर्क सैन्य अभियान और इराक (Iraq) में वर्तमान स्थिति पर चर्चा की. अमेरिकी विदेश विभाग ने यह जानकारी दी. समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, विदेश विभाग द्वारा जारी बयान में कहा गया कि दोनों नेताओं ने तुर्की के सैन्य अभियान पर चिंता व्यक्त की और कहा कि अंकारा को इसे तुरंत रोकने की जरूरत है.

यह फोन वार्ता सीरिया (Syria) पर तुर्की के सैन्य अभियान के कारण अमेरिका का तुर्की पर प्रतिबंध लगाने के बाद हुई है. अमेरिका ने तुर्की (Turkey) के वरिष्ठ अधिकारियों को ब्लैकलिस्ट में डालने के साथ-साथ तुर्की के साथ द्विपक्षीय व्यापारिक समझौते रद्द कर दिए हैं और तुर्की से आने वाले स्टील पर आयात शुल्क में बढ़ोत्तरी कर दी है. बयान के अनुसार, वार्ता के दौरान पोम्पियो ने इराक में हाल ही में हुई हिंसा की निंदा करते हुए कहा कि मानवाधिकारों का उल्लंघन करने वालों को जवाबदेह ठहराया जाएगा.

लाइव टीवी...

बरहम सलीह (Barham Salih) ने मंगलवार को इराकी जनता की मांग पर सुधार को बढ़ावा देने के लिए राष्ट्रीय सम्मेलन का आवाह्न किया. उनके कार्यालय द्वारा जारी बयान के अनुसार, उन्होंने चुनाव कानून में तत्काल संशोधन करने की जरूरत पर जोर दिया.

सलीह का बयान देश में बुरी दैनिक परिस्थितियों के विरोध में केंद्रीय और दक्षिणी इराक में कई शहरों में प्रदर्शनों के बाद आया है. इसके कारण देश में हिंसा और बिखराव की स्थिति ने एक बार फिर से जोर पकड़ लिया है.