VIDEO: नासा के क्यूरोसिटी रोवर ने भेजी मंगल के मटमैले आसमान की तस्वीरें

अंतरिक्ष एजेंसी नासा के क्यूरोसिटी रोवर ने मंगल ग्रह के भूदृश्य के समग्र नजारों को कैमरे में कैद कर धरती पर भेजा है.

VIDEO: नासा के क्यूरोसिटी रोवर ने भेजी मंगल के मटमैले आसमान की तस्वीरें
लाल ग्रह पर हफ्तों चली धूल भरी आंधी के धीरे-धीरे छंटने के बाद लाल-भूरे रंग का हुआ आसमान देखा जा सकता है. (फाइल फोटो)

वाशिंगटन: अंतरिक्ष एजेंसी नासा के क्यूरोसिटी रोवर ने मंगल ग्रह के भूदृश्य के समग्र नजारों को कैमरे में कैद कर धरती पर भेजा है. इन तस्वीरों में लाल ग्रह पर हफ्तों चली धूल भरी आंधी के धीरे-धीरे छंटने के बाद लाल-भूरे रंग का हुआ आसमान देखा जा सकता है. क्यूरोसिटी रोवर द्वारा लिए गए तस्वीरों के इस संग्रह में उसके अपने मास्ट कैमरे से लिया गया वह दुर्लभ दृश्य भी शामिल है, जिसमें उसके ऊपरी हिस्से पर धूल की पतली परत जमी हुई नजर आ रही है. ये तस्वीरें वेरा रूबिन रिज से ली गईं हैं जहां रोवर फिलहाल मौजूद है. 

 

 

रोवर ने ड्रिल करने की एक नई प्रक्रिया का इस्तेमाल शुरू किया 
नासा ने एक बयान में कहा कि रोवर ने नौ अगस्त को पत्थरों का एक नया नमूना एकत्रित करने के बाद ग्रह के आस-पास का अध्ययन किया था. इससे पहले ड्रिल करने के उसके आखिरी दो प्रयास बेहद कठोर चट्टानों की वजह से विफल हो गए थे. इसके बाद रोवर ने इस साल ड्रिल करने की एक नई प्रक्रिया का इस्तेमाल करना शुरू किया. चट्टानों की कठोरता का पता लगाने का कोई तरीका नहीं है. ड्रिल करने के बाद ही इसका पता चलता है. इसलिए रोवर टीम ने इस नई ड्रिलिंग गतिविधि के लिए यह तरीका अपनाया. 

नासा जेल प्रपल्शन लैबोरेटरी में क्यूरोसिटी के प्रोजेक्ट साइंटिस्ट अश्विन वसावदा के मुताबिक वेरा रुबिन रिज की बनावट और रंग में बहुत विविधताएं हैं इसलिए रोवर टीम ने सबसे पहले ड्रिलिंग के लिए इस जगह को चुना है. 

(इनपुट भाषा से)