पुराने नक्शे वाले बधाई संदेश पर नेपाल के PM केपी ओली का यू टर्न, दी ये सफाई

बता दें कि भारत पहले ही नेपाल के नए नक्शे को खारिज कर चुका है. छह हफ्ते पहले, ओली ने भी स्कूल की उन पाठ्यपुस्तकों को वापस लेने का आदेश दिया था जिनमें नया नक्शा छपा था.

पुराने नक्शे वाले बधाई संदेश पर नेपाल के PM केपी ओली का यू टर्न, दी ये सफाई
के.पी शर्मा ओली, नेपाल के प्रधानमंत्री (फाइल).

काठमांडू: नेपाल के प्रधानमंत्री के. पी शर्मा ओली (Nepal Prime Minister K P Sharma Oli) ने अब विजयदशमी (Vijaya Dashami) के बधाई संदेश में पुराने नक्शे का उपयोग किया है. इस नक्शे में नेपाल के मानचित्र से लिपुलेख, कालापानी और लिंपियाधुरा की जगह राष्ट्रीय प्रतीक पर ओली का चित्र छपा है. इसके बाद वह अपने ही देश में नए विवाद में घिर गए हैं. अब नेपाली प्रधानमंत्री कार्यालय सफाई दे रहा है कि संशोधित मानचित्र का आकार छोटा है, इसलिए कुछ क्षेत्र दिख नहीं रहे हैं. इससे पहले, जून में नेपाल की संसद ने देश के नए मानचित्र को मंजूरी दी थी जिसमें कालापानी, लिपुलेख और लिंपियाधुरा को नेपाल का हिस्सा दिखाया गया था जो उत्तराखंड के पिथौरागढ़ का भाग हैं

यह भी पढ़ें: यहां होगा श्रीराम और रावण की सेना में 'कुप्पी युद्ध', जानिए इतिहास और मान्यता

भारत कर चुका है नए नक्शे को खारिज
बता दें कि भारत पहले ही नेपाल के नए नक्शे को खारिज कर चुका है. छह हफ्ते पहले, ओली ने भी स्कूल की उन पाठ्यपुस्तकों को वापस लेने का आदेश दिया था जिनमें नया नक्शा छपा था. अब पुराने नक्शे के साथ ओली के बधाई संदेश वाले घटनाक्रम को भारत के रॉ चीफ समंत कुमार गोयल और ओली की मुलाकात के बाद हुए बदलाव के तौर पर देखा जा रहा है.

विपक्षी पार्टी हमलावर
उधर नेपाल सरकार अपने ही देश में घिर गई है. प्रमुख विपक्षी पार्टी नेपाली कांग्रेस ने ओली पर हमला बोला है. उन्होंने कहा है कि ओली क्षेत्रीय मुद्दों पर सर्व सम्मति को नजरअंदाज करने की कोशिश कर रहे हैं. प्रधानमंत्री ओली के प्रेस सलाहकार, सूर्य थापा ने सफाई देते हुए कहा है कि ‘ग्रीटिंग कार्ड में नक्शा नया था लेकिन इसके छोटे आकार के कारण नए क्षेत्र दिखाई नहीं दे रहे हैं.’

ये है मामला
बता दें कि नेपाल और भारत के बीच नया नक्शा विवाद का कारण है. नए नक्शे में नेपाल ने भारतीय इलाकों पर दावा किया था. भारत ने इसे सिरे से खारिज कर दिया. इसके बाद भारत और नेपाल दोनों की तरफ से ही संबंधों को सुधारने की कोशिश की जा रही है. इस हफ्ते की शुरुआत में ओली ने भारतीय रॉ चीफ समंत कुमार गोयल के साथ एक लंबी बैठक की थी. इसके बाद उनकी अपनी पार्टी के नेताओं ने ही गुस्सा जाहिर किया था कि वह विश्वास में नहीं लेते. अब नक्शा विवाद में नेपाल के रुख में बदलाव का अहम कारण इसी मुलाकात को माना जा रहा है.

VIDEO

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.