Zee Rozgar Samachar

इस साल बंद रहेंगे न्यूयॉर्क के स्कूल, बच्चों की सुरक्षा के लिए लिया गया फैसला

न्यूयॉर्क के गवर्नर एंड्रयू क्यूमो ने सभी राजकीय स्कूलों को इस शिक्षा सत्र तक बंद रखने का फैसला किया है. स्कूलों को साफ रखने और सोशल डिस्टेंसिंग मेनटेन करने को लेकर हो रही है प्लानिंग. 

इस साल बंद रहेंगे न्यूयॉर्क के स्कूल, बच्चों की सुरक्षा के लिए लिया गया फैसला
इस शिक्षा सत्र तक बंद रहेंगे न्यूयॉर्क के सभी स्कूल

न्यूयॉर्क: कोरोना वायरस माहमारी के चलते अमेरिका का न्‍यूयॉर्क दुनिया का सबसे बड़ा हॉटस्पॉट बन गया है. जहां संक्रमण और मौतों के मामले सबसे ज्यादा हैं. हालांकि पिछले एक महीने में रोजाना होने वाली मौतों का आंकड़ा सबसे कम हो गया है, लेकिन न्यूयॉर्क के अधिकारियों ने सभी राजकीय स्कूलों को इस शिक्षा सत्र तक बंद रखने का फैसला किया है.

यह घोषणा शुक्रवार को न्यूयॉर्क के गवर्नर एंड्रयू क्यूमो ने की. उन्होंने सभी स्कूल प्राधिकारियों को अपना प्लान बताने के लिए कहा कि वो अपने स्कूलों को किस तरह साफ रख सकते हैं और किस तरह सोशल डिस्टेंसिंग के प्रोटोकॉल का पालन कर सकते हैं. क्यूमो ने कहा, 'हम योजनाएं बना रहे हैं और अगले कुछ हफ्तों में इन्हें लागू किया जाएगा. हमें नहीं लगता कि ये काम इस तरह से करना संभव होगा जिससे हमारे बच्चे सुरक्षित रह सकें.'

 ये भी देखें...

स्कूलों में चलने वाले कैफेटेरिया को संभालने की चुनौती भी स्कूलों के सामने है. न्यूयॉर्क में एक मिलियन से भी ज्यादा छात्र हैं और खास तौर पर कैफेटेरिया में सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखना काफी मुश्किल होता है. क्यूमो ने कहा है कि वो बच्चों को सुरक्षित रखने और इस मामले को सुलझाने के लिए और भी योजनाओं पर विचार कर रहे हैं. 

डेमोक्रेटिक गवर्नर ने कहा कि कोरोना वायरस से प्रतिदिन मरने वालों की संख्या 306 से घटकर 289 हो गई है, ये आंकड़ा 29 मार्च के बाद सबसे कम था. अमेरिका में न्यूयॉर्क कोरोना वायरस का केंद्र साबित हुआ है. इस राज्य में संक्रमण के 300,000 से अधिक मामले हैं जबकि 23,600 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. धीरे-धीरे अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या में कमी दर्ज की जा रही है.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.