close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री ने चरमवाद के खिलाफ फेसबुक के कदम को सराहा

फेसबुक (Facebook) ने एक बयान में कहा, 'हमने इस पहल को आगे बढ़ाने की योजना बनाई है और हम आस्ट्रेलिया में इस कार्यक्रम को आगे बढ़ाने और न्यूजीलैंड में संभावित सहयोग का पता लगाने के लिए साथियों से संपर्क कर रहे हैं.'

न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री ने चरमवाद के खिलाफ फेसबुक के कदम को सराहा
न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न. तस्वीर साभार- ट्विटर

वेलिंगटन: न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न (Jacinda Ardern) ने सोशल मीडिया के खतरे से बचने के लिए प्रौद्योगिकी सुधार और नीतिगत बदलाव पर की गई फेसबुक (Facebook) की पहल का बुधवार को स्वागत किया. उन्होंने कहा, 'यह इस तरह का प्रयास है, जिसपर क्राइस्टचर्च कार्रवाई चाहता था, क्योंकि हम आतंकवाद के खतरे को समाप्त करने और ऑनलाइन स्तर पर हिसक अतिवादी सामग्रियों को समाप्त करने के प्रयास कर रहे हैं.' फेसबुक (Facebook) ने बुधवार को घोषणा की थी कि वह एक ऐसे कार्यक्रम को बढ़ा रहा है, जो ऑस्ट्रेलिया एवं इंडोनेशिया में लोगों को अतिवाद हस्तक्षेप साइटों पर पुनर्निर्देशित(रिडाइरेक्ट) करेगा.

फेसबुक (Facebook) ने एक बयान में कहा, 'हमने इस पहल को आगे बढ़ाने की योजना बनाई है और हम आस्ट्रेलिया में इस कार्यक्रम को आगे बढ़ाने और न्यूजीलैंड में संभावित सहयोग का पता लगाने के लिए साथियों से संपर्क कर रहे हैं.'

अर्डर्न के अनुसार, जब लोग घृणा और अतिवाद से संबंधित कुछ सर्च करेंगे, तो उन्हें ऑस्ट्रेलिया और इंडोनेशिया में एक्जिट ऑस्ट्रेलिया और 'रुआनगनगोब्रोल डॉट कॉम' जैसे स्थानीय संगठनों की साइटों पर भेज दिया जाएगा, जिससे लोगों को हिंसा, अतिवाद और आतंकवाद के रास्ते को छोड़ने में मदद मिलेगी.

न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री ने अप्रैल में घोषणा कर कहा था कि उनका देश और फ्रांस सोशल मीडिया को आतंकवाद के मंच के तौर पर प्रयोग करने से रोकने के लिए देशों व प्रौद्योगिकी कंपनियों को एकसाथ लाएंगे.

यह कार्रवाई इस वर्ष 15 मार्च को न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च में हुए हमले के मद्देनजर की गई है, जिसमें 51 लोग मारे गए थे.