ISIS, अलकायदा जैसे विनाशकारी समूहों के लिए कोई स्थान नहीं है: ओबामा

आईएसआईएस और अलकायदा जैसे ‘विनाशकारी समूहों’ को खत्म करने के अमेरिका के संकल्प को बुलंद करते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने आज कहा कि आतंकवादियों की पनाहगाहों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा तथा उन्होंने दुनिया भर के मुसलमानों का आह्वान किया कि वे उन लोगों को खारिज करें जो असिहुष्णता का पाठ पढ़ाने और हिंसा को बढ़ावा देने के लिए इस्लाम को विकृत कर रहे हैं।

संयुक्त राष्ट्र : आईएसआईएस और अलकायदा जैसे ‘विनाशकारी समूहों’ को खत्म करने के अमेरिका के संकल्प को बुलंद करते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने आज कहा कि आतंकवादियों की पनाहगाहों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा तथा उन्होंने दुनिया भर के मुसलमानों का आह्वान किया कि वे उन लोगों को खारिज करें जो असिहुष्णता का पाठ पढ़ाने और हिंसा को बढ़ावा देने के लिए इस्लाम को विकृत कर रहे हैं।

ओबामा ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने संबोधन के दौरान कहा, जब कोई एक आतंकवादी समूह बंधकों के सिर कलम करता है, निर्दोषों की हत्या करता है तथा महिलाओं को गुलाम बनाता है तो यह किसी एक देश की राष्ट्रीय सुरक्षा की समस्या नहीं है। यह पूरी मानवता पर हमला है।

उन्होंने कहा, आईएसआईएल जैसे विनाशकारी समूह के साथ सामंजस्य बिठाने के लिए कोई स्थान नहीं है और अमेरिका को उनके खिलाफ सैन्य कार्रवाई करने को लेकर कोई खेद नहीं है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, हम यह सुनिश्चित करने की प्रतिबद्धता के साथ ऐसा करते हैं कि इन अपराधों को अंजाम देने वाले आतंकवादियों के लिए कोई महफूज पनाहगाह नहीं होगी। हमने अलकायदा के खिलाफ एक दशक से अधिक समय के प्रयास को दिखाया है। हम चरमपंथियों के सामने नहीं झुकेंगे।