जब कोरोना से निपटने के लिए जूझ रहा चीन, तब पड़ोसी देश बेफ्रिक होकर कर रहा मिसाइल टेस्ट

देश ने ये मिसाइल परीक्षण ऐसे समय में किया है, जब दुनिया कोरोनावायरस महामारी से जूझ रही है.

जब कोरोना से निपटने के लिए जूझ रहा चीन, तब पड़ोसी देश बेफ्रिक होकर कर रहा मिसाइल टेस्ट
अमेरिका और चीन ने उत्तर कोरिया से परमाणु और मिसाइल कार्यक्रम खत्म कर फिर से वार्ता पर लौटने का आह्वान किया है.फाइल फोटो.

प्योंगयांग: उत्तर कोरिया ने शनिवार को छोटी दूरी की दो बैलिस्टिक मिसाइलों को उत्तर प्योंगन प्रांत से पूर्वी सागर में दागा है. समाचार एजेंसी योनहाप दक्षिण कोरिया के 'ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टाफ' के हवाले से यह जानकारी दी. देश ने ये मिसाइल परीक्षण ऐसे समय में किया है, जब दुनिया कोरोनावायरस महामारी से जूझ रही है.

बीबीसी के मुताबिक, उत्तर कोरिया ने इस महीने की शुरुआत में 'फायरिंग ड्रिल' के हिस्से के रूप में कई मिसाइल दागे थे. अमेरिका और चीन ने उत्तर कोरिया से परमाणु और मिसाइल कार्यक्रम खत्म कर फिर से वार्ता पर लौटने का आह्वान किया है.

लाइव टीवी यहां देखें:-

दक्षिण कोरिया की सेना ने शनिवार को कहा कि वह स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं. उत्तर कोरिया द्वारा यह घोषणा करने के बाद कि वह 10 अप्रैल को सुप्रीम पीपल्स असेंबली (देश की संसद) का सत्र आयोजित करेगा, इसके बाद मिसाइल प्रक्षेपण किया गया है. विश्लेषकों का कहना है कि इस बैठक में लगभग 700 नेता शामिल होंगे.