ऑक्सफोर्ड और कैम्ब्रिज क्लब के 5000 मेंबरों का ऑनलाइन डेटा में चोरी!

यह क्लब ब्रिटेन के विशिष्ट क्लबों में से एक है जो कि ऑक्सफोर्ड और कैंब्रिज विश्वविद्यालयों के भूतपूर्व छात्रों के लिए है.

ऑक्सफोर्ड और कैम्ब्रिज क्लब के 5000 मेंबरों का ऑनलाइन डेटा में चोरी!
मेट्रोपालिटन पुलिस अधिकारी अपनी जांच के तहत सीसीटीवी फुटेज खंगाल रहे हैं. (फाइल फोटो)

लंदन: ऑक्सफोर्ड एंड कैम्ब्रिज क्लब ने अपने 5000 सदस्यों का ऑनलाइन डेटा चोरी होने के बाद पुलिस और निजी जांचकर्ताओं से सम्पर्क किया है. यह क्लब ब्रिटेन के विशिष्ट क्लबों में से एक है जो कि ऑक्सफोर्ड और कैंब्रिज विश्वविद्यालयों के भूतपूर्व छात्रों के लिए है. इस महीने के शुरू में मध्य लंदन के पाल मॉल स्थित क्लब के मुख्यालय में एक बंद कमरे से बैकअप कम्प्यूटर ड्राइव निकाल लिया गया था. हार्डड्राइव पर जो सूचना थी उसमें सदस्यों के नाम, घर का पता और ईमेल पते, फोन नम्बर, कुछ बैंक खातों की जानकारी, जन्मतिथि और यहां तक की तस्वीरें भी थीं.

‘द संडे टेलीग्राफ’ की खबर के अनुसार मानद् सदस्यों महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के पति राजकुमार फिलिप, पुत्र राजकुमार चार्ल्स इससे प्रभावित नहीं हुए हैं. क्लब के सचिव एलिस्टायर टेल्फर ने सभी सदस्यों को ईमेल के साथ ही पत्र लिखकर उनसे अपने बैंक खातों की ‘संदिग्ध गतिविधि’ के लिए नियमित जांच करते रहने का अनुरोध किया है. 

उन्होंने लिखा, ‘हमें यह पुष्टि करने के लिए लिखने की सलाह दी गई है कि हो सकता है कि क्लब में एक डेटा चोरी हुई हो जिससे क्लब के कम्प्यूटर प्रणाली में रखा गया आपके निजी डेटा का खुलासा हो सकता है.’ उन्होंने लिखा है, ‘यह स्थिति हार्ड डिस्क की चोरी के चलते उत्पन्न हुई है, साइबर सुरक्षा प्रणाली में सेंध से नहीं.

यद्यपि हार्डडिस्क में डेटा कई स्तर की सुरक्षा और पासवर्ड से सुरक्षित है, लेकिन डेटा विशेषज्ञों ने हमें सलाह दी है कि इसकी बहुत कम संभावना है कि सूचना उससे निकाली जा सकती है.’ क्लब के प्रबंधन ने चोरी की तह तक जाने के लिए स्काटलैंड यार्ड से सम्पर्क किया है और निजी जांचकर्ताओं से भी सम्पर्क किया है. मेट्रोपालिटन पुलिस अधिकारी अपनी जांच के तहत सीसीटीवी फुटेज खंगाल रहे हैं.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.