पाकिस्तान और चीन ने इस बड़े प्रोजेक्‍ट को लेकर दिया उकसावे वाला बयान, जिस पर भारत को है आपत्ति

 चीनी राजदूत याओ जिंग ने भी कहा कि पाकिस्तान, चीन का अच्छा पड़ोसी, अच्छा मित्र, अच्छा साथी और अच्छा भाई है. 

पाकिस्तान और चीन ने इस बड़े प्रोजेक्‍ट को लेकर दिया उकसावे वाला बयान, जिस पर भारत को है आपत्ति

इस्लामाबाद : 29 पाकिस्तानी सीनेट के अध्यक्ष सादिक संजरानी ने शुक्रवार को कहा कि इस्लामाबाद चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा (सीपीईसी) परियोजना को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है और चीन के मूल हितों का समर्थन करेगा. समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, सीनेट अध्यक्ष ने इस्लामाबाद में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान यह टिप्पणी की, जिसमें कहा गया कि पाकिस्तान, चीन के साथ संबंधों को महत्व देता है, क्योंकि द्विपक्षीय संबंध पाकिस्तान की विदेश नीतियों की आधारशिला है.

इस्लामाबाद में चीनी दूतावास में हुए कार्यक्रम में संजरानी ने कहा, "पाकिस्तान में राजनीतिक परिवर्तन पाकिस्तान की चीन नीति को प्रभावित नहीं करेगा और नई सरकार चीन के साथ मिलकर काम करना जारी रखेगी."

ये भी पढ़ें- पाकिस्तान के ड्रीम प्रोजेक्ट CPEC पर 'दोस्त' चीन ने लगाया ब्रेक

सीनेट के चेयरमैन ने कहा कि पाकिस्तानी लोग राष्ट्रीय सुरक्षा के पाकिस्तान के मूल मुद्दों पर चीन के समर्थन की सराहना करते हैं और उनका देश एक-चीन नीति के साथ रहना जारी रखेगा और चीन के मूल हितों के मुद्दों पर चीन का समर्थन करेगा.

CPEC

उन्होंने कहा कि उनका देश चीन द्वारा प्रस्तावित 'बेल्ट एंड रोड' पहल की सराहना करता है. वहीं, चीनी राजदूत याओ जिंग ने कहा कि पाकिस्तान, चीन का अच्छा पड़ोसी, अच्छा मित्र, अच्छा साथी और अच्छा भाई है. 

ये भी पढ़ें- बलूचिस्तान : बंदूकधारियों ने CPEC परियोजना से जुड़े 10 मजदूरों की गोली मारकर हत्या की

उन्होंने कहा कि सीपीईसी 'बेल्ट एंड रोड' पहल की प्रमुख पायलट परियोजना है और दोनों पक्षों द्वारा संवर्धन और विस्तार के एक नए चरण में इसे बढ़ावा दिया जाएगा. सीपीईसी का अगला विकास पाकिस्तान की सामाजिक-आर्थिक प्राथमिकताओं और द्विपक्षीय परामर्श के साथ सार्वजनिक जरूरतों पर आधारित होगा.