PTI की तरफ से आरिफ अलवी लड़ेंगे राष्ट्रपति चुनाव की जंग, इमरान ने दी मंजूरी

अगले राष्ट्रपति के रूप में डॉ. अलवी का नाम पिछले कई दिनों से मीडिया की सुर्खियों में रहा है, लेकिन इसकी औपचारिक पुष्टि शनिवार को उस वक्त हुई जब पीटीआई ने आधिकारिक तौर पर एक संक्षिप्त घोषणा की कि पार्टी अध्यक्ष ने उनके नामांकन को मंजूरी दे दी है.

PTI की तरफ से आरिफ अलवी लड़ेंगे राष्ट्रपति चुनाव की जंग, इमरान ने दी मंजूरी
पीटीआई के संस्थापक सदस्यों में से एक डॉ. अलवी वर्तमान में पार्टी के सिंध चैप्टर के अध्यक्ष हैं (तस्वीर साभार: फेसबुक पेज)

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के प्रमुख अंग्रेजी अखबार 'डॉन' के रविवार के अंक में पहले पन्ने पर प्रकाशित एक खबर में दावा किया गया है कि पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ ने इस बात की पुष्टि की है कि प्रधानमंत्री इमरान खान ने कराची से नेशनल असेंबली के सदस्य चुने गए डॉ. आरिफ अलवी को देश के राष्ट्रपति पद के लिए पार्टी के उम्मीदवार के रूप में मंजूरी दे दी है. गौरतलब है कि अगले राष्ट्रपति के रूप में डॉ. अलवी का नाम पिछले कई दिनों से मीडिया की सुर्खियों में रहा है, लेकिन इसकी औपचारिक पुष्टि शनिवार को उस वक्त हुई जब पीटीआई ने आधिकारिक तौर पर एक संक्षिप्त घोषणा की कि पार्टी अध्यक्ष ने उनके नामांकन को मंजूरी दे दी है.

2013 में पहली बार जीते थे नेशनल असेंबली का चुनाव
खबर में आगे बताया गया है कि पाकिस्तान के चुनाव आयोग ने राष्ट्रपति चुनाव के लिए पहले से ही कार्यक्रम की घोषणा कर रखी है. खबर के मुताबिक पाकिस्तान में राष्ट्रपति चुनाव वहां के मौजूदा राष्ट्रपति ममनून हुसैन की पांच वर्ष की अवधि समाप्त होने से पांच दिन पहले 4 सितंबर को होगा. खबर में यह जानकारी भी दी गई है कि पीटीआई के संस्थापक सदस्यों में से एक डॉ. अलवी वर्तमान में पार्टी के सिंध चैप्टर के अध्यक्ष हैं और 25 जुलाई के चुनावों में कराची से नेशनल असेंबली सीट (एनए-247) पर जीत दर्ज की है. खबर के मुताबिक डॉ. अलवी पीटीआई के महासचिव के रूप में भी काम कर चुके हैं. उन्होंने एनए-250 कराची से 2013 में पहली बार नेशनल असेंबली का चुनाव जीता था.

पेशे से एक दंत चिकित्सक हैं डॉ. अलवी
पेशे से एक दंत चिकित्सक, डॉ. अलवी ने चुनाव सुधारों पर संसदीय समिति समेत विभिन्न समितियों के सदस्य के रूप में संसद में सक्रिय भूमिका निभाई है. वह चुनाव सुधारों पर उप-समिति के संयोजक भी थे. इसके साथ ही उन्होंने विदेश में रह रहे पाकिस्तानियों के वोट देने का अधिकार का मुद्दा भी काफी सक्रियता के साथ उठाया था.

4 सितंबर को पाकिस्तान में होगा राष्ट्रपति चुनाव
राष्ट्रपति चुनाव के लिए तय कार्यक्रम के अनुसार, 27 अगस्त तक नामांकन पत्र दाखिल किए जा सकते हैं जबकि कागजात की जांच 29 अगस्त को की जाएगी. मतदान 4 सितंबर को इस्लामाबाद में संसद भवन और लाहौर, कराची, पेशावर और क्वेटा में प्रांतीय असेंबली की इमारतों में 10 बजे से शाम 4 बजे तक होगा.