close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

PAK अपनी नापाक हरकतों से नहीं आ रहा बाज, 30 दिन में 272 बार किया संघर्ष विराम उल्लंघन

पाकिस्तान की ओर से जुलाई महीने के दौरान ही कुल 272 संघर्षविराम उल्लंघन हो चुके हैं. 

PAK अपनी नापाक हरकतों से नहीं आ रहा बाज, 30 दिन में 272 बार किया संघर्ष विराम उल्लंघन
(फाइल फोटो)

जम्मू: जम्मू एवं कश्मीर के राजौरी जिले में पाकिस्तान की ओर से मंगलवार को नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर अकारण संघर्षविराम का उल्लंघन किया गया. इसके बाद भारत की ओर से भी जवाबी कार्रवाई की गई. गोलीबारी में एक भारतीय जवान, जबकि पाकिस्तानी सेना के दो जवान मारे गए. पाकिस्तान की ओर से जुलाई महीने के दौरान ही कुल 272 संघर्षविराम उल्लंघन हो चुके हैं. सूत्रों ने कहा, "भारतीय सेना की मुंहतोड़ जवाबी कारवाई में पाकिस्तानी चौकियों को भी भारी क्षति पहुंची है." सूत्रों के मुताबिक, दोपहर करीब एक बजे पाकिस्तानी पक्ष ने सुंदरबनी इलाके में अकारण गोलीबारी का सहारा लिया.

यह गोलीबारी तंगधार और करेन सेक्टर के बीच हुई. भारतीय पक्ष ने प्रभावी रूप से जवाबी कार्रवाई की जिसमें तंगधार क्षेत्र में दो पाकिस्तानी सैनिक मारे गए. भारतीय सेना के एक बयान के अनुसार, "जम्मू जिले के अखनूर क्षेत्र में घघरियाल गांव के 34 वर्षीय नायक कृष्णलाल राजौरी के सुंदरबनी सेक्टर के पास पाकिस्तानी गोलीबारी में शहीद हो गए.

वह अपने पीछे पत्नी शशि देवी को छोड़ गए. नाइक कृष्णलाल एक बहादुर, प्रेरणादायक और ईमानदार सैनिक थे. राष्ट्र हमेशा उनके सर्वोच्च बलिदान और कर्तव्य के प्रति समर्पण के लिए उनका ऋणी रहेगा." बयान में कहा गया, "पाकिस्तानी सेना की चौकियों को भारी नुकसान के साथ पाक सैनिकों को हताहत किया गया है."

पिछले तीन दिनों से पाकिस्तान लगातार संघर्षविराम का उल्लंघन कर रहा है. रविवार को शाहपुर और सौजियान क्षेत्रों में पाकिस्तान की गई गोलीबारी में एक नौ दिन के शिशु की मौत हो गई थी और दो नागरिक घायल हो गए थे. नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान द्वारा अकारण गोलीबारी के कारण हाल में छह सैनिकों को अपनी जान गंवानी पड़ी है. इस साल पाकिस्तान की ओर से कुल 1,593 संघर्ष विराम उल्लंघन हुए हैं. मार्च में तीन, जून में एक और जुलाई में दो सैनिक शहीद हो चुके हैं. इसके अलावा जुलाई महीने के दौरान ही कुल 272 संघर्ष विराम उल्लंघन हुए हैं.