पाकिस्तान की जवाबी कार्रवाई, अमेरिकी राजनयिकों की आवाजाही पर लगाया प्रतिबंध

विदेश कार्यालय के प्रवक्ता डा . मोहम्मद फैसल ने गुरुवार को पुष्टि की कि दोनों देश एक दूसरे के राजनयिकों की आवाजाही पर रोक लगाएंगे.

पाकिस्तान की जवाबी कार्रवाई, अमेरिकी राजनयिकों की आवाजाही पर लगाया प्रतिबंध

इस्लामाबाद: पाकिस्तान ने शुक्रवार को जवाबी कार्रवाई करते हुए अमेरिका राजनयिकों की आवाजाही पर प्रतिबंध लगा दिया. इसके पहले अमेरिका ने भी ऐसे ही कदम उठाए थे. माना जा रहा है कि पाकिस्तान के इस प्रतिक्रियावादी कदम से दोनों देशों के संबंध और तनावपूर्ण हो सकते हैं. इसके पहले इस रोक को एक मई से प्रभावी होना था. लेकिन इसे टाल दिया गया था क्योंकि दोनों पक्षों ने इस मुद्दे को हल करने का फैसला किया था. 

विदेश कार्यालय के प्रवक्ता डा . मोहम्मद फैसल ने गुरुवार को पुष्टि की कि दोनों देश एक दूसरे के राजनयिकों की आवाजाही पर रोक लगाएंगे. उन्होंने कहा कि प्रतिबंध 11 मई से लागू होंगे और यह परस्पर आधार पर होंगे. उन्होंने हालांकि कहा कि इस मामले में दोनों पक्षों के बीच बातचीत चल रही है. 

अमेरिकी फैसले के अनुसार वाशिंगटन स्थित दूतावास और न्यूयार्क , लॉस एंजिलिस , टेक्सास तथा शिकागो के वाणिज्य दूतावासों में नियुक्त पाकिस्तानी राजनयिकों की आवाजाही शहर के 40 किलोमीटर तक सीमित होगी. निर्धारित सीमा से बाहर जाने के लिए उन्हें औपचारिक रूप से अनुमति लेनी होगी. 

पाकिस्तान के रक्षा मंत्री को विदेश मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार मिला
पाकिस्तान के रक्षा मंत्री खुर्रम दस्तगीर खान को विदेश मंत्रालय का आज अतिरिक्त प्रभार दे दिया गया। गौरतलब है कि कुछ ही दिन पहले ख्वाजा आसिफ को यहां उच्च न्यायालय ने अयोग्य करार दिया था। वह विदेश मंत्री के पद पर थे। खान (47) गुजरांवाला से पीएमएल - एन के संघीय सांसद हैं।संघीय सरकार ने उन्हें विदेश मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार दिया है।

(इनपुट - भाषा)