पाकिस्तान ने 2 हफ्ते बाद खोला ईरान सीमा का फाटक, ये है वजह

पाकिस्तान (Pakistan) ने अपने पड़ोसी देश ईरान के साथ लगने वाली ताफ्तान सीमा का फाटक दो सप्ताह बाद व्यापार के लिए फिर से खोल दिया है.

पाकिस्तान ने 2 हफ्ते बाद खोला ईरान सीमा का फाटक, ये है वजह
फाइल फोटो

इस्लामाबाद: पाकिस्तान (Pakistan) ने अपने पड़ोसी देश ईरान के साथ लगने वाली ताफ्तान सीमा का फाटक दो सप्ताह बाद व्यापार के लिए फिर से खोल दिया है. ईरान में कोरोना वायरस की वजह से 100 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है, इसलिए एहतियातन बॉर्डर गेट बंद कर दिया गया था.

द न्यूज इंटरनेशनल की रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान में कोरोना वायरस के पहले रोगी के पूरी तरह से ठीक हो जाने के एक दिन बाद यह कदम उठाया गया. पाकिस्तान ने ताफ्तान सीमा का रास्ता खोलते हुए व्यापारियों को सीमा पार से सामान के आयात-निर्यात की अनुमति दी.

पड़ोसी देशों में कोरोना वायरस की स्थिति बिगड़ने के बाद पाकिस्तान ने 23 फरवरी को ईरान के साथ लगती अपनी सीमा को बंद कर दिया था. चीन के वुहान शहर से फैले इस वायरस ने काफी देशों को अपनी चपेट में ले लिया है.

ये भी पढ़ें- पाकिस्तान: पत्रकार की हत्या मामले में जांच के लिए JIT का गठन, नहर में मिला था शव

एक दिन पहले ही जियो न्यूज ने बताया था कि ताफ्तान में वायरस से ग्रसित लोगों व संक्रमण के संदिग्धों के लिए बनाए गए आइसोलेशन (अलग-थलग) वार्ड में लोगों की संख्या काफी बढ़ गई थी, जिससे अधिकारियों को ईरान से लौटकर आए तीर्थयात्रियों व अन्य लोगों को दूसरी जगह स्थानांतरित करना पड़ा.

कस्टम अधिकारियों ने बताया कि वर्तमान में ताफ्तान के दो आइसोलेशन केंद्रों में 3,000 से अधिक लोगों को रखा गया है. पाकिस्तानी अधिकारियों ने देश में कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के अपने प्रयासों को और भी तेज किया है.

बॉर्डर पर आइसोलेशन केंद्र स्थापित करने के साथ ही स्क्रीनिंग मशीनें भी रखी गई हैं, ताकि वायरस से ग्रसित ईरान से आने वाले तीर्थयात्रियों व अन्य लोगों की जांच की जा सके.