पेरिस हमला और बंधक प्रकरण: पूरा घटनाक्रम

फ्रांस की पुलिस ने एक प्रिंट कंपनी और एक यहूदी सुपरमार्केट में घुस कर, शार्ली हेब्दो नरसंहार मामले में वांछित दो भाइयों और कथित तौर पर उनके एक साथी को मार डाला जिसने दो अलग अलग घटनाओं में लोगों को बंधक बनाया था। बंधक प्रकरण की वजह से पूरे फ्रांस में दहशत फैली रही। 

पेरिस हमला और बंधक प्रकरण: पूरा घटनाक्रम

पेरिस: फ्रांस की पुलिस ने एक प्रिंट कंपनी और एक यहूदी सुपरमार्केट में घुस कर, शार्ली हेब्दो नरसंहार मामले में वांछित दो भाइयों और कथित तौर पर उनके एक साथी को मार डाला जिसने दो अलग अलग घटनाओं में लोगों को बंधक बनाया था। बंधक प्रकरण की वजह से पूरे फ्रांस में दहशत फैली रही। पेरिस के उत्तर पूर्व में दामार्तिन एन गोइली गांव में एक छोटी प्रिंटिंग कंपनी में जब सशस्त्र कमांडो ने रात को प्रवेश किया तो वहां विस्फोट हुए और इमारत से धुआं निकला। एक सुरक्षा सूत्र ने बताया कि दोनों इस्लामिस्टों ने भागने की नाकाम कोशिश की। उन्होंने सुरक्षा बलों पर गोलीबारी की। बाद में दोनों मारे गए।

नीचे इस घटना के लाइव अपडेट हैं-

-पेरिस हमला में उस वक्त पुलिस को भारी राहत मिली जब उसने दोनों आतंकी भाइयों को मार गिराया। ये दोनों आतंकी एक गोदाम में छिपे हुए थे। ये दोनों एक ग्रॉसरी स्टोर मे छुपे हुए थे जो पुलिस कार्रवाई में मारे गए। दोनों आतंकी भाइयों ने शार्ली हेब्दो मैगजीन पर हमला कर 10 पत्रकारों समेत 12 लोगों की जान ले ली थी।

-फ्रांसीसी व्यंग्य पत्रिका शार्ली हेब्दो के कार्यालय पर हमला किए जाने के मामले के दो संदिग्धों में से एक का जिहादी तत्वों के साथ संबंधों का लंबा इतिहास रहा है और उसका इस्लामिक स्टेट के एक प्रमुख आतंकवादी से भी संपर्क रहा है। वहीं दूसरा आरोपी अमेरिका की निगरानी सूची में था और उसने यमन में अलकायदा के साथ प्रशिक्षण लिया था, इसके बावजूद दोनों फ्रांसीसी खुफिया विभाग को चकमा देने में सफल हो गए।

-पूर्वी पेरिस में फायरिंग हुई है जिसमें दो लोगों की मौत हो गई है। एक ग्रॉसरी स्टोर में घुसकर हमलावरों ने फायरिंग की है। पांच लोगों के बंधक बनाने की बात कही जा रही है।

- फ्रांसीसी व्यंग्य पत्रिका शार्ली हेब्दो के कार्यालय पर इस्लामी हमले में 12 लोगों की हत्या करने के संदिग्ध दो भाइयों ने आज यहां राजधानी के उत्तर पूर्वी हिस्से में पुलिस से घिर जाने पर एक व्यक्ति को बंधक बना लिया। साथ ही एक बाजार में यहां फिर से गोलीबारी की खबर है।

-पेरिस में कुछ जगहों पर फिर फायरिंग की खबर है। इस फायरिंग में अभी तक जानमाल के नुकसान का पता नहीं चला है।

-सूत्रों का दावा है कि पेरिस पुलिस इन आतंकियों से बातचीत कर रही है। लेकिन इन आतंकियों का कहना है कि वो मरने के लिए तैयार हैं। इस बीच पुलिस ने एहतियातन पेरिस के दो रनवे को बंद करा दिया है। इन आतंकियों पर बुधवार को 10 पत्रकारों सहित 12 लोगों की हत्या का आरोप है।

-स्थानीय मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक कार सवार हमलावार और कोई नहीं बल्कि क्वाचि ब्रदर्स हैं जिसने पेरिस में चार्ली हेबदो मैग्‍जीन के कार्यालय पर बुधवार को हमला किया था। पेरिस से 80 किलोमीटर दूर एक औ़द्योगिक क्षेत्र के एक बिल्डिंग में दोनों हमलावर छिपे हुए हैं।

-जिस बिल्डिंग में दोनों हमलावर छिपे हुए हैं, उसके चारों ओर फ्रांस की पुलिस ने शिकंजा कस लिया है। बताया जा रहा है कि कुछ बंधक भी उसी बिल्डिंग के अंदर ही हैं। बम निरोधक दस्ता भी मौके पर मौजूद है।

-इलाके में तेज बारिश हो रही है। पुलिस से बचने के लिए हमलावर एक इमारत में दाखिल हो गए। आतंकी जिस इमारत में छिपे हैं वह औद्योगिक इलाका है। आतंकियों के साथ पुलिस की बातचीत चल रही है। कार में क्वाचि ब्रदर्स के छिपे होने की खबर है।

-फायरिंग में दो लोगों के मारे जाने और 20 लोगों के घायल होने की खबर है। तलाशी अभियान में लगे हेलीकॉप्टर ने हमलावरों को घेर लिया है। 

-फ्रांस में लगातार तीसरे दिन गोलीबारी होने की खबर है। उत्तर पूर्व पेरिस में शुक्रवार को एक कार पर चार्ली हेबदो मैग्जीन के कार्यालय पर हमला करने वालों संदिग्‍धों ने गोलीबारी की है। जानकरी के अनुसार, एक व्यक्ति को बंधक बनाया गया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक कार का पीछा करने के दौरान यह गोलीबारी हुई है। हमलावर कार चोरी कर भाग रहे थे।

-पुलिस सूत्रों के अनुसार, डेमारर्टिन एन गोएले शहर से कम से कम एक व्‍यक्ति को बंधक बना लिया गया है। आज सुबह मोंटगेनी सेंटे फेलिसिटे नामक शहर से ग्रे कलर की कार प्‍यूगोट 206 चुराई गई थी। हमलावर कार चोरी करके भाग रहे थे। फ्रेंच सुरक्षा एजेंसियों के अनुसार, पेरिस में चार्ली हेबदो मैग्‍जीन के कार्यालय पर हमला करने वाले संदिग्‍धों ने यह कार चुराई। बताया गया कि एन-2 मोटरवे पर कार का पीछा किया जा रहा है। पुलिस ने कहा कि इस दौरान फायरिंग भी की गई। घटनास्‍थल के नजदीक रहने वाले लोगों को घरों के अंदर रहने के निर्देश दिए गए हैं।