रूस ने फिर किया दुनिया की सबसे घातक हाइपरसोनिक Zircon Missile का परीक्षण, जानिए स्पीड

रूस (Russia) के रक्षा मंत्रालय के मुताबिक इसे प्रोजक्ट 1164 मिसाइल क्रूजर मार्शल उस्तीनोव और प्रोजेक्ट 22350 फ्रिगेट एडमिरल कासातोनोव पर तैनात करने की तैयारी है.

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Dec 01, 2020, 14:17 PM IST

मास्को:  रूस (Russia) ने दुनिया की सबसे घातक हाइपरसोनिक जिरकॉन मिसाइल (Zircon Missile) का परीक्षण किया है. जाहिर है ऐसा करके वो दुनिया की सबसे बड़ी महाशक्ति अमेरिका (USA) को ये बताना चाहता है कि सोवियत संघ के विघटन के बावजूद आज भी रक्षा तकनीकि और एडवांस सैन्य हथियार तैयार करने में उसका कोई सानी नहीं है. ताजा परीक्षण में मिसाइल ने 450 Km दूर स्थित अपने टारगेट पर सटीक निशाना लगाया. हाल ही में सफेद सागर में मौजूद अपने नॉर्दन फ्लीट एडमिरल गोर्श्कोव फ्रिगेट से इस मिसाइल का टेस्ट किया.

 

 

 

1/6

दूसरा कामयाब परीक्षण

2nd Successful test

दुनिया की सबसे घातक मिसाइल का रूस ने दोबारा कामयाब परीक्षण किया.

 

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

2/6

अकल्पनीय रफ्तार

Awesome speed

रक्षा मंत्रालय ने कहा कि Test में मिसाइल ने 8 मैक की स्‍पीड हासिल की और 4.5 म‍िनट में 450 Km की दूरी तय करके टारगेट को खत्म कर दिया.  

 

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

3/6

वर्चस्व की लड़ाई

War of Supremacy

बाल्टिक सागर में अमेरिका (USA) से बढ़ते तनाव के बीच हाइपरसोनिक एंटी शिप मिसाइल जिरकान का परीक्षण किया गया.

 

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

4/6

ट्रेस करना मुश्किल

Impossible tracking!

Hypersonic missile किसी तय रूट पर नहीं चलती. लिहाजा रास्‍ते का पता लगाना लगभग नामुमकिन है. स्‍पीड इतनी तेज कि टारगेट को संभलने का वक्त भी नहीं मिलेगा.

 

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

5/6

किसको है खतरा?

Threat to whome?

खबरों के मुताबिक रूस के इस ब्रह्मास्त्र से निपटने के लिए अमेरिका भी ऐसे अस्त्र का निर्माण कर रहा है. 

 

फोटो साभार: (Russian Defense Ministry Press Service/AP)

6/6

जनवरी में पहला परीक्षण

1st run in January

जनवरी की शुरुआत में, इसी फ्रिगेट का पहली बार परीक्षण किया गया था, तब इसने 500 Km दूर स्थित जमीनी लक्ष्य पर सटीक निशाना साधा था. 

(प्रतीकात्मक तस्वीर)