BREAKING NEWS

Photos: पृथ्वी से गायब होने वाली हैं ये जगहें! फटाफट घूम आइए वर्ना पछताएंगे

Places on Earth Can be Disappear: हमारी पृथ्वी में कई रहस्य छिपे हुए हैं. लगातार हो रहे बदलावों के कारण पृथ्वी से कई चीजें खत्म हो रही हैं. इनमें जीव जंतु, पेड़-पौधे और कई जगहें शामिल हैं. आज हम आपको ऐसी ही कुछ जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो जल्दी ही पृथ्वी से पूरी तरह गायब हो जाएंगी. अभी आप यहां घूमने जा सकते हैं और इन जगहों को एक्सप्लोर कर सकते हैं.

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Sep 26, 2021, 09:00 AM IST
1/6

ग्रेट बैरियर रीफ, ऑस्ट्रेलिया

Great Barrier Reef

ग्रेट बैरियर रीफ दुनिया की सबसे बड़ी कोरल रीफ है, जो ऑस्ट्रेलिया के क्वींसलैंड पर स्थित है. ये इलाका1680 मील के एरिया में फैला हुआ है. एक्सपर्ट के मुताबिक ये कोरल रीफ भविष्य में गायब हो जाएगी. यहां करीब 1500 प्रजातियों का आसरा है. इनमें से कुछ विशेष प्रजाति की मछलियां केवल यहीं पाई जाती हैं. रिपोर्टों में कहा गया है कि पिछले 30 वर्षों में कोरल ब्लीचिंग और ग्लोबल वार्मिंग की वजह से इसका तकरीबन 50 फीसदी खत्म हो चुका है. अनुमानों के अनुसार, ग्रेट बैरियर रीफ वर्ष 2030 तक इर्रेवर्सिबली रूप से डैमेज हो जाएगी.

2/6

मेडागास्कर आईलैंड, दक्षिण पूर्व अफ्रीका

 Madagascar Island

मेडागास्कर दुनिया का चौथा सबसे बड़ा आइलैंड है, जो अफ्रीका के दक्षिणी तट के पास इंडियन ओशियन में एक द्वीपीय देश है. ये वाइल्डलाइफ में इंटरेस्ट रखने वालों के लिए बेस्ट जगह हो सकती है. क्योंकि यहां करीब दो तिहाई गिरगिट, नींबू की 50 प्रजातियों और भी कई जीव जंतु रहते हैं. यहां वनों की कटाई एक बड़ी समस्या बन चुकी है. इस आइलैंड के करीब 90 प्रतिशत वन खत्म हो गए हैं. आपको ये जानकर हैरानी होगी कि मेडागास्कर में बच्चे हो या बूढ़े या फिर महिला हो या पुरुष सभी लोग एक जैसे कपड़े पहनते हैं. इस पोशाक को स्थानीय भाषा में 'लाम्बा' कहा जाता है. रिपोर्टों के अनुसार मेडागास्कर की कई अनरिकॉर्डेड एनडेमिक स्पेसीज खोजे जाने से पहले ही खो जाएंगी. वैज्ञानिकों का ये भी अनुमान है कि हम अगले 35 वर्षों में मेडागास्कर आईलैंड खो सकते हैं.

3/6

डेड सी, जॉर्डन और इजराइल की सीमा

 Dead Sea

डेड सी का नाम आपने जरूर सुना होगा. यह समुद्र दुनिया की सबसे गहरी खारे पानी की झील के रूप में प्रसिद्ध है. ऐसा कहा जाता है कि इस समुद्र के पानी में उछाल तो आता है, लेकिन नमक के दवाब के कारण कोई इसमें डूबता ही नहीं है. इस वजह से यहां हमेशा पर्यटकों की भीड़ लगी रहती है. लेकिन अब ये धीरे-धीरे मर रहा है. यहां वाटर लेवल हर वर्ष तकरीबन 3 फीट की दर से गिर रहा है. एक्सपर्ट का मानना है कि ये जगह जल्दी ही समाप्त हो जाएगी.

4/6

गैलापागोस आईलैंड्स, इक्वाडोर

Galapagos Islands

गैलापागोस आईलैंड्स अपने समुद्र के बीच में बसी एक छोटी सी दुनिया है. यहां फ्लाइटलेस कोरमोरैंट से लेकर विशाल कछुए तक पाए जाते हैं. इसके अलावा यहां कई तरह की वनस्पतियों और जीवों की एक विशाल विविधता देखी जा सकती है. लेकिन ये आईलैंड्स भी अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रहा है. यहां कई क्रूज यात्री आते हैं. इसके अलावा यहां चार एयरपोर्ट भी हैं. लगातार लोगों की बढ़ती आबादी के चलते गैलापागोस धीरे-धीरे खत्म होता जा रहा है.

5/6

मालदीव

Maldives

छुट्टियां मनाने या घूमने के लिहाज से मालदीव दुनिया के सबसे खूबसूरत देशों में से एक है. हिंद महासागर में स्थित यह द्वीपीय देश जनसंख्या और क्षेत्र, दोनों ही प्रकार से एशिया का सबसे छोटा देश है. मालदीव में कुल 1192 टापू हैं, जिसमें से सिर्फ 200 टापूओं पर ही लोग रहते हैं. इस खूबसूरत डेस्टिनेशन के प्राचीन समुद्र तट, आकर्षक रिसॉर्ट, अविश्वसनीय स्नॉर्कलिंग स्पॉट हर साल दुनिया भर से टूरिस्ट् को आकर्षित करते रहे हैं. ये कयास लगाए जा रहे हैं कि अगर समुद्र का लेवल इसी तरह बढ़ता रहा तो मालदीव 21वीं सदी के आखिर तक समुद्र में खो जाने वाला पहला देश बन सकता है. 

6/6

कांगो बेसिन, अफ्रीका

Congo Basin

दुनिया के तकरीबन आधे ऑक्सीजन के लिए जिम्मेदार, कांगो बेसिन का इलाका खत्म होने के कगार पर है. सवाना, जंगलों और दलदलों में हाथियों और गोरिल्लाओं के साथ, खनन, वनों की कटाई और अवैध वन्यजीव व्यापार से बेसिन को खतरा है. एक्सपर्ट्स को चिंता है कि अगर इसी तरह के हालात बने रहे, तो 2040 तक इस जंगल के पौधे और जानवर गायब हो सकते हैं. (फोटो साभार :WWF)