'रियल लाइफ' टार्जन: जंगल में 40 साल रहा स्वस्थ, इंसानों के बीच सिर्फ 8 साल जी पाया

जंगल में पले-बढ़े 'रियल लाइफ टार्जन (Real Life Tarzan)' की इंसानों के बीच सिर्फ 8 साल गुजारने के बाद मौत हो गई. आधुनिक दुनिया से अलग जंगल में 40 साल तक जिंदगी बिताने वाले हो वैन लैंग (Ho Van Lang) के बारे में लोगों को 8 साल पहले पता चला था और फिर इंसानी सभ्यता के बीच लाया गया था.

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Sep 14, 2021, 11:37 AM IST
1/6

कैंसर से हुई मौत

cancer death

हो वैन लैंग (Ho Van Lang) जंगल में बेहद स्वस्थ जीवन बिताते थे, लेकिन इंसानों के बीच आने के सिर्फ 8 साल में ही लैंग को लीवर कैंसर हो गया और उसी से उनकी मौत हो गई. पिछले सोमवार (6 सितंबर) को लैंग ने दम तोड़ दिया. (फोटो सोर्स- द सन)

2/6

पिता के साथ जंगल में रहते थे लैंग

Lang lived in forest with father

द सन की रिपोर्ट के अनुसार, साल 1972 में वियतनाम युद्ध के दौरान अमेरिकी बमबारी में हो वैन लैंग (Ho Van Lang) की मां और अन्य दो भाइयों की की मौत हो गई थी. इसके बाद अपने छोटे से बच्चे की जिंदगी बचाने के लिए लैंग के पिता जंगल में जाकर छिप गए और तब से ही बाप-बेटे जंगल में रहने लगे. उस समय लैंग की उम्र सिर्फ 2 साल थी. (फोटो सोर्स- द सन)

3/6

इंसानी सभ्यता की नहीं थी जानकारी

no knowledge of human civilization

हो वैन लैंग (Ho Van Lang) ने पिता के अलावा अपने जीवन में कभी किसी दूसरे इंसान को ही नहीं देखा था. लैंग को इंसानी सभ्यता, पहनावा, खान-पान के बारे में भी कोई जानकारी नहीं थी. वह जंगल में मिलने वाली चीजें खाकर और पेड़ों के पत्ते व छाल पहनकर रहते थे. (फोटो सोर्स- द सन)

4/6

जंगल में लैंग का खाना

Lang food in the forest

हो वैन लैंग (Ho Van Lang) और उनके पिता जंगल में फल, सब्जियां, शहद और कई तरह की मांस खाते थे. उनके खाने में बंदर, चूहे, सांप, छिपकली, मेंढक, चमगादड़, पक्षियों और मछली सहित कई तरह के मांस शामिल थे. (फोटो सोर्स- द सन)

5/6

महिलाओं के बारे में नहीं थी जानकारी

Did not know about women

इसके अलावा हो वैन लैंग (Ho Van Lang) ने कभी भी किसी महिला को नहीं देखा था और इसकी कोई जानकारी भी नहीं थी. इंसानों के बीच आने के बाद जब उनसे महिला के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा था कि उनके पिता ने इसके बारे में कुछ नहीं बताया है. (फोटो सोर्स- द सन)

6/6

मॉडर्न लाइफ में नहीं हो पाए एडजस्ट

Could not adjust in modern life

डू कास्टवे नाम की एक कंपनी, जो लोगों को जंगलों में रहने के ट्रिक्स सिखाती है. इंसानों के बीच आने के बाद उस कंपनी के एलवरो सेरेजो ने हो वैन लैंग (Ho Van Lang) से मुलाकात की थी. उन्होंने बताया कि उनकी मौत इंसानी दुनिया में आने के बाद हुए बदलाव के कारण हुई है. लैंग तैयार खाद्य पदार्थ खाने लगे थे और शराब भी पीने लगे थे. उन्होंने कहा कि मैं लैंग के जाने से बहुत दुखी हूं, लेकिन मेरे लिए उनका जाना भी एक मुक्ति है क्योंकि मुझे पता है कि वह पिछले कई महीनों से पीड़ित थे. (फोटो सोर्स- द सन)