भारत और US टेक्नोलॉजी के माध्यम से मानवता की सेवा कर सकते हैं: PM मोदी

अमेरिका में व्हाइट हाउस में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) और राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) की मुलाकात हुई. इस दोनों नेताओं की ये द्विपक्षीय बैठक कई मायनों में अहम है. 

भारत और US टेक्नोलॉजी के माध्यम से मानवता की सेवा कर सकते हैं: PM मोदी
व्हाइट हाउस में PM मोदी और बाइडन की मुलाकात (फोटो साभार: ANI)

वॉशिंगटन: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) अमेरिकी यात्रा पर हैं. आज (शुक्रवार) को व्हाइट हाउस में पहली बार हुए क्वाड शिखर सम्मेलन (QUAD Summit 2021) से पहले पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के बीच द्विपक्षीय मुलाकात हुई. इस दौरान दोनों नेताओं ने संबंधों को और मजबूत करने व एक-दूसरे की मदद करने पर जोर दिया. दोनों नेताओं ने कोविड-19 एवं जलवायु परिवर्तन, व्यापार और हिंद-प्रशांत सहित प्राथमिकता वाले कई मुद्दों पर चर्चा की. बाइडन ने कहा कि विश्व के दो सबसे बड़े लोकतंत्र भारत एवं अमेरिका के बीच संबंधों की नियति ही ‘शक्तिशाली, मजबूत बनना और करीब आना' है.

पीएम मोदी ने क्या कहा?

व्हाइट हाउस में बैठक के दौरान पीएम मोदी ने बाइडन से कहा, '2016 में मुझे आपसे विस्तार से बात करने का मौका मिला था और उस समय आपने भारत अमेरिका के संबंधों को लेकर अपना विजन बताया, वो वाकई प्रेरक था और आज आप राष्ट्रपति के तौर पर उस विजन को आगे बढ़ाने के लिए जो पुरुषार्थ कर रहे हैं, प्रयास कर रहे हैं उसका मैं स्वागत करता हूं. पीएम मोदी ने कहा, भारत और अमेरिका टेक्नोलॉजी के माध्यम से मानवता की काफी सेवा कर सकते हैं. भारत-अमेरिका के बीच ट्रेड का काफी महत्व है.

यह दशक भारत और अमेरिका के लिए बेहद अहम 

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, आज का द्विपक्षीय शिखर सम्मेलन बहुत महत्वपूर्ण है. हम इस सदी के तीसरे दशक की शुरुआत में मिल रहे हैं. आपका नेतृत्व निश्चित रूप से इस दशक को आकार देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा. यह दशक भारत और अमेरिका के लिए बेहद अहम होने वाला है. भारत और अमेरिका के बीच और भी मजबूत दोस्ती के बीज बोए गए हैं.

VIDEO

 

'एक नए अध्याय की शुरुआत'

बैठक में जो बाइडन ने पीएम मोदी का व्हाइट हाउस में स्वागत करते हुए कहा, अमेरिका में भारतीय मूल के 40 लाख लोग रहते हैं. दोनों देशों के बीच एक नए अध्‍याय की शुरुआत हो रही है. भारत और अमेरिका दुनिया की समस्‍याओं का हल निकाल सकते हैं. इसके साथ ही बाइडन ने कोविड महामारी के खिलाफ काम करने का वादा किया. जलवायु परिवर्तन और इंडो पैसिफिक को लेकर भी चर्चा हुई.

यह भी पढ़ें; PM मोदी की गिफ्ट चॉइस है बेहद अलग, विश्‍व नेताओं को दिए ये खास उपहार

कमला हैरिस की मां का जिक्र

पीएम मोदी से मुलाकात के दौरान जो बाइडन ने उप-राष्ट्रपति कमला हैरिस की मां का जिक्र किया. बाइडन ने कहा, कमला हैरिस की मां भारत से थीं. उप-राष्ट्रपति की मां जानी-मानी वैज्ञानिक भी थीं. बाइडन ने कहा कि आज के समय में शांति, सहनशीलता के मूल्यों की जरूरत है. हमारी साझेदारी पहले से और ज्यादा बढ़ रही है. पीएम मोदी के व्हाइट हाउस आने से खुश हूं.

बैठक के बाद पीएम मोदी ने किया ट्वीट

मोदी ने बैठक के बाद ट्वीट कर जो बाइडन के साथ हुई इस बैठक को ‘असाधारण’ करार दिया. उन्होंने कहा, ‘हमने इस बात पर चर्चा की कैसे भारत एवं अमेरिका विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग बढ़ा सकते हैं और कोविड-19 एवं जलवायु परिवर्तन जैसी प्रमुख चनौतियों से पार पाने के लिए मिलकर काम कर सकते हैं.'

 

 

बाइडन के राष्ट्रपति बनने के बाद पहली मुलाकात

बता दें, इससे पहले, दोनों नेताओं की मुलाकात उस वक्त हुई थी, जब बाइडन अमेरिका के उपराष्ट्रपति थे लेकिन, यह पहला मौका है जब बाइडन जनवरी में अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति बनने के बाद मोदी से मिले. दोनों नेताओं, बाइडन और मोदी ने कई बार फोन पर बातचीत की है और कुछ ऑनलाइन बैठकों में भी शरीक हुए हैं. इनमें मार्च में अमेरिकी राष्ट्रपति की मेजबानी में आयोजित ‘क्वाड’ की बैठक भी शामिल है. उनके बीच 26 अप्रैल को अंतिम बार टेलीफोन पर बातचीत हुई थी.

 

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.