सीरिया में आईएस पर हवाई हमलों के लिये पुतिन को संसद से मंजूरी

राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को सीरिया में हवाई हमला करने के लिए बुधवार को संसद से मंजूरी मिल गई। यह अफगानिस्तान में सोवियत संघ के कब्जे के बाद सुदूर क्षेत्र में लड़ाई में रूस की पहली भागीदारी होगी।

सीरिया में आईएस पर हवाई हमलों के लिये पुतिन को संसद से मंजूरी

मास्को: राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को सीरिया में हवाई हमला करने के लिए बुधवार को संसद से मंजूरी मिल गई। यह अफगानिस्तान में सोवियत संघ के कब्जे के बाद सुदूर क्षेत्र में लड़ाई में रूस की पहली भागीदारी होगी।

यह घोषणा ऐसे समय में हुई है जब पुतिन और अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा सीरिया में इस्लामिक स्टेट को पराजित करने के तौर तरीकों पर और देश के संकटग्रस्त नेता बशर अल असद की भूमिका के संदर्भ में प्रतिद्वंद्वी योजनाओं को आगे बढ़ा रहे हैं।

विदेश में सैनिकों को तैनात करने के पुतिन के अनुरोध पर ऊपरी सदन की मुहर लगने के बाद क्रेमलिन के चीफ ऑफ स्टाफ सर्गेई इवानोव ने टेलीविजन पर कहा, 'फेडरेशन कॉफ काउंसिल ने एकमत से राष्ट्रपति के अनुरोध का समर्थन किया है।' 

उन्होंने कहा कि सीरिया के राष्ट्रपति द्वारा रूस से सैन्य सहयोग का अनुरोध किये जाने के बाद हवाई हमले का निर्णय लिया गया है। उन्होंने अभियान का ब्योरा देने से इनकार करते हुए सिर्फ इतना कहा कि यह निश्चित समय सीमा के लिए होगा और रूसी सैनिक जमीन पर अभियान में शामिल नहीं होंगे।

सोमवार को रूस के कद्दावर नेता ने इस्लामिक स्टेट के आतंकवादियों से लड़ने के लिए संयुक्त राष्ट्र समर्थित गठबंधन का प्रस्ताव रखा था और असर के भविष्य को लेकर ओबामा से विचारों में असहमति जताई थी।