अगले 60 घंटों में यूरोप के 2 देशों पर कब्जा कर सकता है रूस : थिंक टैंक

एक अमेरिकी थिंक टैंक का दावा है कि रूस अगले 60 घंटे में पूर्वी यूरोप के दो देशों को अपने कब्जे में ले सकता है। थिंक टैंक का कहना है कि ऐसा इसलिए क्योंकि नाटो एस्टोनिया और लातविया की ठीक तरीके से सुरक्षा नहीं दे पा रहा है जबकि क्रीमिया शहर पर कब्जा कर चुके रूस की इस क्षेत्र में सामरिक स्थिति काफी मजबूत हो गई है।

अगले 60 घंटों में यूरोप के 2 देशों पर कब्जा कर सकता है रूस : थिंक टैंक

नई दिल्ली : एक अमेरिकी थिंक टैंक का दावा है कि रूस अगले 60 घंटे में पूर्वी यूरोप के दो देशों को अपने कब्जे में ले सकता है। थिंक टैंक का कहना है कि ऐसा इसलिए क्योंकि नाटो एस्टोनिया और लातविया की ठीक तरीके से सुरक्षा नहीं दे पा रहा है जबकि क्रीमिया शहर पर कब्जा कर चुके रूस की इस क्षेत्र में सामरिक स्थिति काफी मजबूत हो गई है।

डेली मेल में प्रकाशित थिंक टैंक रैंड फाउंडेशन की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि रूस लातवियाई बॉर्डर पर दो तरफ से बड़ी संख्या में अपनी फौज भेज सकता है। अगर लातविया में रूसी फोर्सेस जीत जाती हैं, तो दूसरी बटालियन एस्टोनिया में दाखिल होकर कैपिटल ताल्लिन पर कब्जा करेगी।

रिपोर्ट में कहा गया है कि रूस की इन बटालियनों का सामना करने की क्षमता लातवियाई और नाटो सेना के पास नहीं है। यही नहीं रिपोर्ट में चेतावनी देते हुए कहा गया है कि नाटो की ग्राउंड फोर्सेज रूस का सामना नहीं कर सकतीं। उनके पास कोई बैटल टैंक नहीं है जबकि रूस की सभी बटालियनों के पास टैंक मौजूद हैं। नाटो के पास इस इलाके में युद्धाभ्यास करने के लिए जगह भी नहीं है।

थिंक टैंक की ओर से 2014 और 2015 के बीच किए गए अध्ययन में कहा गया है कि बाल्टिक सेना और अमेरिका हवाई हमले दोनों मिलकर रूस को आगे बढ़ने से रोकने की कोशिश करें तो यह भी उनके लिए काफी मुश्किल काम होगा।  

गौरतलब है कि 1990 में सोवियत यूनियन के खत्म होने के बाद एस्टोनिया, लातविया और लिथुआनिया समेत कई देश यूरोपियन यूनियन में शामिल हो गए थे। रूस एक बार फिर से सोवियत यूनियन के बिखरे हुए देशों पर कब्जा करना चाहता है। रूस का दावा रहा है कि पूर्व सोवियत के इन देशों में बड़ी संख्या में रूसी लोग रहते हैं।

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.