रूस का UN को बड़ा प्रस्ताव, महामारी खत्म करने के लिए दिया इस बात पर जोर

राष्ट्रपति पुतिन (President Vladimir Putin) ने कहा कि रूस की सरकार 'Sputnik V' वैक्सीन को बनाने में अपने अनुभव को उन देशों के साथ बांटना चाहती है जो इस दिशा में काम कर रहें हैं.

रूस का UN को बड़ा प्रस्ताव, महामारी खत्म करने के लिए दिया इस बात पर जोर
फाइल फोटो

नई दिल्ली : रूस (Russia) ने कोरोना महामारी (COVID-19 Pandemic) से मुकाबले में वैश्विक अगुवाई के संकेत देते हुए बड़ा एलान किया है. रूस ने कहा है कि 'वह संयुक्त राष्ट्र संघ (United Nations) और उसके कार्यालयों में तैनात कर्मचारियों के स्वैच्छिक टीकाकरण के लिए अपनी कोरोना वैक्सीन 'स्पुतनिक वी' (Sputnik V) निशुल्क देने के लिए तैयार है.'

संयुक्त राष्ट्र महासभा के 75वें सत्र में दिया प्रस्ताव
रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (President Vladimir Putin) ने कहा कि मास्को की ओर से जल्द ही उन देशों के लिए एक वर्चुअल कांफ्रेंस का आयोजन होगा, जो एंटी-कोरोनावायरस टीकों के विकास में सहयोग करना चाहते हैं.

पूरी तरह सुरक्षित, प्रभावशाली Sputnik V !
यूएन महासभा की 75वीं सालगिरह के मौके पर पुतिन ने रूस द्वारा विकसित दुनिया की पहली कोरोना वैक्सीन 'Sputnik V' के बारे में विस्तार से जानकारी दी. पुतिन ने कहा कि रूस की ये खोज दुनिया के लिए पूरी तरह सुरक्षित, प्रभावशाली और भरोसा करने लायक है. 

ये भी पढ़ें- LAC विवाद के बीच भारत के साथ आया ऑस्ट्रेलिया, चीन के खिलाफ उठाएगा ये बड़ा कदम

प्री रिकार्डेड वीडियो से दुनिया को संदेश
राष्ट्रपति पुतिन (President Vladimir Putin) ने कहा कि रूस की सरकार 'Sputnik V' वैक्सीन को बनाने में अपने अनुभव को उन देशों के साथ बांटना चाहती है जो इस दिशा में काम कर रहें हैं. और उनके देश की बनाई गई वैक्सीन में दिलचस्पी रखते हैं. उन्होने कहा कि रूस के पास पूरी क्षमता है, तभी उसने सबसे पहले इस वैक्सीन को दुनिया के सामने रखा. ताकि दुनिया के भविष्य को सुरक्षित रखा जा सके. 

'अर्थव्यस्था संकट' पर जताई चिंता
पुतिन ने कहा कि कोरोना महामारी की वजह से दुनिया की अर्थव्यवस्था को बड़ा नुकसान हो चुका है. इसलिए रूस जल्द से जल्द  वैश्विक समस्या का समाधान निकालने के लिए सहयोग देने को तैयार है. खासकर वो देश जो वैक्सीन विकसित करने की दिशा में बढ़ चुके हैं. क्योंकि पूरी दुनिया में वैक्सीन पहुंचाने की चुनौती का रास्ता भी अभी से बनाना होगा.

WHO को मजबूत करने की जरूरत 
पुतिन ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organisation) की क्षमता को गुणात्मक रूप से मजबूत करने की आवश्यकता पर जोर दिया. 

रूसी राष्ट्रपति ने कहा कि रूस वैश्विक और क्षेत्रीय स्तर पर कोरोना महामारी का संक्रमण रोकने के लिए प्रभावी तरीके से मुहिम चला रहा है. इसलिए उन्हे कई देशों का सहयोग मिला तो कोरोना महामारी को जल्द से जल्द खत्म करने में आसानी होगी. 
 
VIDEO