पुतिन के धुर विरोधी नेता को दिया गया था खतरनाक जहर, ऐसे हुआ खुलासा
topStories1hindi740369

पुतिन के धुर विरोधी नेता को दिया गया था खतरनाक जहर, ऐसे हुआ खुलासा

रूस के विपक्षी नेता और राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Russian President Vladimir Putin) के विरोधी एलेक्सी नवेलनी (Alexei Navalny) को जहर दिया गया था. जर्मनी ने नवेलनी के नमूनों की जांच के आधार पर इसकी पुष्टि की है.

पुतिन के धुर विरोधी नेता को दिया गया था खतरनाक जहर, ऐसे हुआ खुलासा

मॉस्को: रूस के विपक्षी नेता और राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Russian President Vladimir Putin) के विरोधी एलेक्सी नवेलनी (Alexei Navalny) को जहर दिया गया था. जर्मनी ने नवेलनी के नमूनों की जांच के आधार पर इसकी पुष्टि की है. जर्मनी ने कहा है कि एलेक्सी नवेलनी के टेस्ट किये गए, जिसमें उनके शरीर में सोवियत युग के तंत्रिका तंत्र पर हमला करने वाले जहर नोविचोक के अंश मिलने की बात सामने आई है.

उल्लेखनीय है कि नवेलनी 20 अगस्त को साइबेरिया से मॉस्को लौटते वक्त विमान में बीमार हो गए थे और विमान की आपात लैंडिंग कराकर ओमस्क शहर के अस्पताल में उन्हें भर्ती कराया गया था. अंतरराष्ट्रीय दबाव बढ़ने पर बाद में उन्हें जर्मनी के चैरिटी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां डॉक्टरों ने पिछले हफ्ते कहा था कि नवेलनी को जहर देने के संकेत मिले हैं. 

EU और नाटो को बताएंगे
जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल (German Chancellor Angela Merkel) के प्रवक्ता स्टीफेन सियेबर्ट (Steffen Seibert) ने बुधवार को जारी बयान में कहा कि जर्मनी की विशेष प्रयोगशाला में चल रही जांच में सबूत मिले हैं कि तंत्रिका तंत्र को प्रभावित करने वाला नोवोचोक समूह (Novichok group) का रसायन नवेलनी के शरीर में मौजूद है. मालूम हो कि नोविचोक सोवियत दौर का विष है, जिसका इस्तेमाल रूसी जासूस सर्जेई स्करीपाल (Sergei Skripal) और उनकी बेटी को ब्रिटेन में मारने के लिए किया गया था. सियेबर्ट ने कहा कि सरकार यूरोपीय संघ (European Union) और नाटो (NATO) को एलेक्सी नवेलनी की जांच के परिणामों से अवगत कराएगी. 

ये भी देखें-

आरोपों से इनकार, सहयोग को तैयार
रूस एलेक्सी नवेलनी को जहर देने के आरोपों को खारिज करता रहा है. साइबेरिया में नवेलनी का इलाज करने वाले डॉक्टरों ने बार-बार कहा था कि उन्हें जहर देने के कोई सबूत नहीं मिले हैं. रूस ने बुधवार को कहा कि वह नवेलनी को कथित तौर पर जहर दिए जाने के मामले में जर्मनी के साथ सहयोग करने के लिए तैयार था.

LIVE टीवी: 

 

 

Trending news