VIDEO : संस्कृत के एक शब्द से अमेरिका में विदेशी बच्ची ने जीता कॉम्पीटिशन

अमेरिका में 'नेशनल स्पेलिंग बी प्रतियोगिता' का खासा महत्व हैं. ये एक स्पेलिंग कॉम्पीटिश है, जहां पिछले 10 सालों से भारत का दबदबा रहा है. लेकिन इस बार एक पांच साल की अमेरिकी बच्ची ने संस्कृत के एक शब्द के बलबूते फाइनल के लिए क्वॉलीफाई कर लिया है. 

VIDEO : संस्कृत के एक शब्द से अमेरिका में विदेशी बच्ची ने जीता कॉम्पीटिशन
पांच साल की एडिथ फुलर ने जीता स्पेलिंग कॉम्पीटिशन (Still grab)

नई दिल्ली : अमेरिका में 'नेशनल स्पेलिंग बी प्रतियोगिता' का खासा महत्व हैं. ये एक स्पेलिंग कॉम्पीटिश है, जहां पिछले 10 सालों से भारत का दबदबा रहा है. लेकिन इस बार एक पांच साल की अमेरिकी बच्ची ने संस्कृत के एक शब्द के बलबूते फाइनल के लिए क्वॉलीफाई कर लिया है. 

बता दें कि  पिछले 10 साल में लगभग हर साल इस प्रतियोगिता का विजेता एक भारतीय मूल का बच्चा रहा है, लेकिन ओकलाहोमा में शनिवार को इसका रीजनल कॉम्पीटिशन हुआ था. जिसमें 5 साल की एडिथ फुलर ने फाइनल के लिए क्वालीफाई किया है. इस प्रतियोगिता की सबसे खास बात ये रही कि एडिथ ने एक संस्कृत शब्द की सही स्पेलिंग बताकर इसे जीता है. 

एडिथ ने रीजनल राउंड में अपने से काफी बड़े बच्चों को हराया है. प्रतियोगिता के आखिरी सवाल में जज उससे ज्ञान की स्पेलिंग पूछता है. एडिथ इस शब्द का ओरिजन पूछती है. उसे बताया जाता है कि ये शब्द संस्कृत का है. इसके बाद एडिथ इसका बड़े ही आत्मविश्वास के साथ इस शब्द का अर्थ पूछती है, उसे बताया जाता है Knowledge. इसके बाद एडिथ ‘ज्ञान’ की स्पेलिंग सही बताती है. जिसके बाद जज उसे रीजनल राउंड का विनर घोषित करता है. बता दें कि ‘ज्ञान’ संस्कृत का शब्द है. जिसे इंगलिश में ‘Jnana’ लिखते हैं.

ओकलाहोमा की पांच वर्षीय एडिथ फुलर अमेरिका की प्रतिष्ठित नेशनल स्पेलिंग बी प्रतियोगिता में अब तक की सबसे कम उम्र की प्रतिभागी है. संस्कृत के शब्द "ज्ञान" की सही स्पेलिंग बताने के साथ ही वह इसमें भाग लेने की अधिकारी हो गईं. प्रतियोगिता का 90वां संस्करण मई में होना है.

एडिथ ने ओकलाहोमा के टुल्सा में पांच घंटे तक चली रीजनल बी प्रतियोगिता में खुद से उम्र में बड़े 50 से अधिक छात्रों को पीछे छोड़ा. खास यह है कि एडिथ ने यह ज्ञान घर में रहकर ही अर्जित किया है.