UK PM Race: इन नारों से चुनावी माहौल बना रहे PM पद के सारे उम्मीदवार, अबकी बार किसकी सरकार?
topStories1hindi1258804

UK PM Race: इन नारों से चुनावी माहौल बना रहे PM पद के सारे उम्मीदवार, अबकी बार किसकी सरकार?

UK Prime Minister Race: ब्रिटेन (UK) की जनता नए प्रधानमंत्री का इंतजार कर रही है. ऐसे में जब चुनावी मुकाबला दिलचस्प हो गया है तो पीएम पद की रेस में मौजूद उम्मीदवार जी तोड़ मेहनत कर रहे हैं. इस बीच प्रचार प्रसार में छोटे और असरदार नारे सुनने को मिल रहे हैं.

UK PM Race: इन नारों से चुनावी माहौल बना रहे PM पद के सारे उम्मीदवार, अबकी बार किसकी सरकार?

UK Premiership Race: सोशल मीडिया और हैशटैग के युग में राजनेता भी लोगों से जुड़ने के लिए डिजिटल प्लेटफॉर्म्स का जमकर इस्तेमाल कर रहे हैं. ब्रिटेन (UK) में कंजरवेटिव पार्टी की ओर से जल्द ही प्रधानमंत्री का नाम तय कर लिया जाएगा. इस रेस में शामिल सभी नेता तीन-तीन शब्दों के अपने-अपने राजनीतिक संदेश का प्रसार कर रहे हैं. सभी नेताओं ने महज तीन शब्दों के छोटे मगर आकर्षित करने वाले स्लोगन तैयार किए हैं. बोरिस जॉनसन पार्टी प्रमुख के तौर पर इस्तीफा दे चुके हैं अब नए प्रधानमंत्री का नाम तय करने की प्रक्रिया प्रगति पर है. इस बीच जॉनसन का एक स्लोगन नए उम्मीदवारों के दिमाग में घूम रहा है जो कभी उनके लिए कारगर नुस्खा साबित हुआ था. दरअसल वो नारा था 'गेट ब्रेक्सिट डन' और इस स्लोगन के जरिए जॉनसन ने लोगों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया था.

अबकी बार किसकी सरकार?

इससे उन्हें 2019 के आम चुनावों में जीत हासिल करने में मदद मिली थी. उन्होंने यूरोपीय यूनियन (EU) को सही ढंग से छोड़ने के लिए ब्रिटेन के मतदाताओं के 2016 के जनमत संग्रह के फैसले को लागू करने में देरी के बारे में जनता की निराशा को सही तरीके से पहचान लिया था. इसलिए उन्होंने एक छोटा और आकर्षित करने वाले स्लोगन रखा और अपना वादा सरल तरीके से लोगों के सामने पेश किया. जब ये तरीका और नारा काम कर गया तो इस पर गौर करते हुए अब पीएम की इस रेस में शामिल उम्मीदवारों ने उसी पुराने कॉन्सेप्ट को दोहराया है. यही वजह है कि अधिकांश उम्मीदवारों ने चुनाव प्रचार के लिए बस तीन शब्दों वाला कैंपेन मैसेज तैयार किया है.

'छोटे और असरदार'

गुरुवार के दूसरे दौर के मतदान से पहले मैदान में रहने वाले सभी छह लोगों के पास एक बेहद आकर्षक, छोटा लेकिन जबरदस्त चुनावी नारा है जिसके जरिए वो अपनी अपनी दावेदारी पेश कर रहे हैं. बुधवार के पहले दौर के मतदान में (प्रधानमंत्री का नाम फाइनल करने के लिए एक प्रक्रिया) सबसे ज्यादा वोट हासिल करने वाले भारतीय मूल के नेता ऋषि सनक ने 'रेडी फॉर ऋषि' स्लोगन तैयार किया है.

पहले दौर में दूसरे स्थान पर रहे पेनी मोडरंट ने भी संक्षिप्त स्लोगन 'पीएम4पीएम' पर विश्वास जताया है. वहीं तीसरे स्थान पर रहे लिज ट्रस ने 'लीज फॉर लीडर', जबकि केमी बैडेनोच ने 'केमी फॉर प्राइम मिनिस्टर' के साथ रेस में दावेदारी मजबूत करने की कोशिश की है. वहीं टॉम तुगेंदत ने 'टॉम ए क्लीन स्टार्ट' गढ़ा है, जबकि सुएला ब्रेवरमैन ने 'सुएला4लीडर' पर दांव लगाया है.

 इनपुट- (IANS)

ये ख़बर आपने पढ़ी देश की नंबर 1 हिंदी वेबसाइट Zeenews.com/Hindi पर

Trending news