सफदर अवान की गिरफ्तारी के बाद पाकिस्तान में बवाल, पुलिस ने सेना के खिलाफ खोला मोर्चा

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ (Nawaz Sharif) के दामाद सफदर अवान ( Safdar Awan) की गिरफ्तारी के बाद पाकिस्तान में गुस्सा लगातार बढ़ता जा रहा है. हालांकि सफदर को बाद में रिहा कर दिया गया था, लेकिन विवाद थमता नहीं दिख रहा है.

सफदर अवान की गिरफ्तारी के बाद पाकिस्तान में बवाल, पुलिस ने सेना के खिलाफ खोला मोर्चा
(फाइल फोटो)

कराची: पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ (Nawaz Sharif) के दामाद सफदर अवान ( Safdar Awan) की गिरफ्तारी के बाद पाकिस्तान में गुस्सा लगातार बढ़ता जा रहा है. हालांकि सफदर को बाद में रिहा कर दिया गया था, लेकिन विवाद थमता नहीं दिख रहा है. इसके बाद सिंध में बड़ी तादाद में पुलिस वालों ने छुट्टी के लिए आवेदन दिया है.

होटल का दरवाजा तोड़कर गिरफ्तार करने का आरोप
सफदर ( Safdar Awan) की गिरफ्तारी को लेकर विपक्ष ने आरोप लगाया कि पुलिस ने होटल का दरवाजा तोड़कर सफदर के कमरे में गई और उनसे बदसलूकी की. जिसके बाद पाकिस्तान के सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा ने मामले में जांच का आदेश दिया है. उन्होंने आदेश दिया कि मोहम्मद सफदर की गिरफ्तारी क्यों और किन परिस्थितियों में हुई, इसकी जांच की जाए. 

कई पुलिस अधिकारियों ने छुट्टी के लिए दिया आवेदन
सिंध पुलिस के आईजी के अलावा दो एडिशनल आईजी, 7 डीआईजी और 6 एसएसपी ने छुट्टी के लिए अचानक आवेदन दिया. हालांकि बाद में सिंध के आईजी मुश्ताक महार ने अपनी छुट्टी की मांग को आगे बढ़ा दिया और साथ ही अन्य वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की छुट्टी को भी 10 दिन के लिए टाल दिया है.

"पुलिसवालों की काफी बेइज्जती हुई"
दरअसल, पाकिस्तान के पुलिस चीफ का कहना था कि सफदर अवन को गिरफ्तार करने और फिर उन्हें रिहा करने के दौरान पुलिसवालों की काफी बेइज्जती हुई. हालांकि अब वो कह रहे हैं कि मौजूदा हालात में वो अपनी जिम्मेदारियों से नहीं भाग सकते हैं.

मरियम शरीफ ने लगाया था पुलिस पर आरोप
पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (PML-N) की उपाध्यक्ष मरियम शरीफ (Maryam Nawaz Sharif) ने अपने ट्वीट में बताया, "हमलोग कराची में एक होटल में रुके थे, पुलिस ने मेरे कमरे का दरवाजा तोड़ दिया और कैप्टन सफदर अवान को गिरफ्तार कर लिया."

LIVE टीवी

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.