दक्षिण अफ्रीका में छात्रों को मिला हिंदी में तस्वीरों का चार्ट

विश्व हिंदी दिवस के उपलक्ष्य में पिछले सप्ताह से खास पोस्टर प्राप्त कर रहे सैकड़ों छात्रों ने इस कवायद की सराहना करते हुए कहा है कि इससे उनको फायदा मिलेगा।

जोहानिसबर्ग : विश्व हिंदी दिवस के उपलक्ष्य में पिछले सप्ताह से खास पोस्टर प्राप्त कर रहे सैकड़ों छात्रों ने इस कवायद की सराहना करते हुए कहा है कि इससे उनको फायदा मिलेगा।

कक्षाओं के लिए चार बड़े पोस्टरों और हर छात्रों के लिए छोटे पोस्टरों में सब्जियों, फलों, जानवरों और स्वर तथा व्यंजन शब्दों का रेखांकन है। दक्षिण अफ्रीका के हिंदी शिक्षा संघ की ओर से तैयार इन पोस्टरों को देश भर में हिंदी के छात्रों को वितरित किया गया।

भारत में इसी तरह की तस्वीरों के आधार पर पोस्टर में स्थानीय स्तर की विभिन्न सामग्री की तस्वीरें हिंदी शब्दों के साथ हैं और बगल में अंग्रेजी के भी शब्द हैं। दक्षिण अफ्रीका में हिंदी शिक्षा संघ शिक्षकों को प्रशिक्षित करने और विभिन्न ग्रेडों में भारतीय मंजूरी वाले परीक्षा स्तर में बच्चों तथा व्यस्कों के लिए अंशकालिक कक्षाएं चलाने के साथ कई दशकों से यहां हिंदी के प्रचार-प्रसार में बड़ी भूमिका निभा रहा है।

वर्ष 2002 में पहली बार जोहानिसबर्ग में हिंदी कक्षाओं की शुरुआत में अहम भूमिका निभाने वाले विर्जानंद गारीब ने कहा, ‘हमने देखा है कि पोस्टर पाठ्यपुस्तकों के लिए अतिरिक्त मददगार होगा। इससे हमारे छात्रों को व्यवहारिक प्रशिक्षण मिलेगा।’