close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दक्षिणी जापान में 6.0 तीव्रता का भूकंप, सुनामी का ख़तरा नहीं

दक्षिणी जापान में मंगलवार (9 मई) को तेज भूकंप का झटका आया है, यद्यपि सुनामी की चेतावनी जारी नहीं की गई है और न ही लोगों के घायल होने और क्षति की तत्काल खबर है. अमेरिकी भूगर्भ सर्वेक्षण (यूएस ज्योलॉजिकल सर्वे) के अनुसार दक्षिणी ओकिनावान चेन में मियाको द्वीप में 10 किलोमीटर (6.2 मील) की गहराई से 6.0 तीव्रता का भूकंप आया.

दक्षिणी जापान में 6.0 तीव्रता का भूकंप, सुनामी का ख़तरा नहीं
मियाको द्वीप में 10 किलोमीटर (6.2 मील) की गहराई से 6.0 तीव्रता का भूकंप आया.

तोक्यो: दक्षिणी जापान में मंगलवार (9 मई) को तेज भूकंप का झटका आया है, यद्यपि सुनामी की चेतावनी जारी नहीं की गई है और न ही लोगों के घायल होने और क्षति की तत्काल खबर है. अमेरिकी भूगर्भ सर्वेक्षण (यूएस ज्योलॉजिकल सर्वे) के अनुसार दक्षिणी ओकिनावान चेन में मियाको द्वीप में 10 किलोमीटर (6.2 मील) की गहराई से 6.0 तीव्रता का भूकंप आया.

जापान की मौसम संबंधी एजेंसी ने समुद्र के स्तर में थोड़े बदलाव की चेतावनी दी है लेकिन सुनामी की चेतावनी जारी नहीं की गई है. मियाको 55,000 जनसंख्या वाला द्वीप है और यह दक्षिण-पूर्वी तोक्यो से 1,840 किमी (1,143 मील) और पूर्वी ताइपे से 380 किलोमीटर की दूरी पर है. जापान चार टेक्टोनिक प्लेट के मुख्य केंद्र में है. यहां भूकंप के झटके अक्सर आते रहते हैं. लेकिन सख्त इमारत कोड और बड़े पैमाने पर भूकंप को लेकर जागरुकता की वजह से यहां कम क्षति पहुंचती है. 

लेकिन 11 मार्च, 2011 को समुद्र के अंदर आए भूकंप से जापान के उत्तरपूर्वी तट पर सुनामी आ गई थी, जिससे 18,500 लोगों की मौत हो गई या वे लापता हो गए और फुकुशिमा परमाणु संयंत्र के तीन रियक्टरों से रिसाव होने लगा था. यह दुर्घटना द्वितीय विश्व युद्ध के बाद जापान में हुआ सबसे बड़ा हादसा था.