मिशन क्रू डेमो-2': नासा के अंतरिक्ष यात्री लौट रहे धरती पर, समुद्र में होगी लैंडिंग

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा का ‘क्रू डेमो-2‘ मिशन एक दशक के बाद कामयाब रहा. दो अमेरिकन अंतरिक्ष यात्री शनिवार को सफलतापूर्वक इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन (ISS) पहुंच गए.

मिशन क्रू डेमो-2': नासा के अंतरिक्ष यात्री लौट रहे धरती पर, समुद्र में होगी लैंडिंग
प्रतीकात्मक तस्वीर 

केप केनवरल: स्पेसएक्स द्वारा भेजे गए पहले अंतरिक्षयात्री धरती पर लौटने के लिए शनिवार रात को अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन से रवाना हो गए और उन्हें सीधे समुद्र में उतारने की योजना है.

नासा के डग हर्ली और बॉब बेनकेन अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन से रवाना हो गए और वह रविवार दोपहर तक मेक्सिको की खाड़ी में उतरेंगे.

फ्लोरिडा के अटलांटिक तट पर उष्णकटिबंधीय तूफान 'इसायस' के पहुंचने की आशंका के बावजूद नासा ने कहा कि पेंसाकोला तट पर मौसम अनुकूल लग रहा है.

LIVE TV

नासा 45 वर्ष में पहली बार किसी अंतरिक्षयात्री को सीधे समुद्र में उतार रहा है। आखिरी बार अमेरिका-सोवियत के संयुक्त मिशन अपोलो-सोयुज को 1975 में समुद्र में उतारा गया था. हर्ली ने अंतरिक्ष केंद्र से कहा, 'दो महीने शानदार रहे.'

नासा के केनेडी अंतरिक्ष केंद्र से हर्ली और बेनकेन के 30 मई को रवाना होने के साथ ही स्पेसएक्स अंतरिक्ष में लोगों को भेजने वाली पहली निजी कंपनी बन गई. अब स्पेसएक्स अंतरिक्ष से लोगों को वापस धरती पर लाने वाली पहली कंपनी बनने की कगार पर है.

मिशन की सफलता पर प्रेसीडेंट डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, 'नासा का क्रू डेमो-2 मिशन 19 घंटे में आईएसएस पहुंच गया. कैप्सूल से भेजे गए हमारे अंतरिक्ष यात्री सुरक्षित हैं.'

ये भी देखें-