close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

रॉबर्ट मूलर ने विशेष वकील पद से इस्तीफा दिया, ट्रंप ने कहा - मामला बंद

मूलर ने कहा कि वह न्याय विभाग के इस विचार से बंधे हैं कि किसी राष्ट्रपति को पद पर रहते हुए आरोपित नहीं किया जा सकता.

रॉबर्ट मूलर ने विशेष वकील पद से इस्तीफा दिया, ट्रंप ने कहा - मामला बंद
.(फाइल फोटो)

वॉशिंगटन: अमेरिका के पिछले राष्ट्रपति चुनाव के दौरान डोनाल्ड ट्रंप के प्रचार अभियान और रूस के बीच रिश्तों पर अपने दो साल की चुप्पी तोड़ते हुए विशेष वकील रॉबर्ट मूलर ने बुधवार को न्याय विभाग से अपने इस्तीफे का ऐलान कर दिया, ताकि वह ‘‘निजी जिंदगी’’ में लौट सकें. मूलर ने इस्तीफा ऐसे समय पर दिया जब ऐसी मांग की जा रही थी कि वह अपने निष्कर्षों को लेकर ‘कैपिटल हिल’ में गवाही दें. अटॉर्नी जनरल विलियम बार के साथ उनके असहज संबंधों की भी खबरें आ रही थीं.साल 2016 के चुनाव में रूस के दखल पर मूलर की रिपोर्ट से निपटने में बार के तौर-तरीके के कारण दोनों में खटपट की खबरें आ रही थीं.

बीते मार्च में रिपोर्ट सौंपने के बाद से मूलर न्याय विभाग के कर्मी बने हुए थे. हालांकि, न्याय विभाग ने यह नहीं कहा है कि वह इतने दिनों से क्या काम कर रहे थे. इस बीच, अपनी नियुक्ति के करीब दो साल बाद अपने पहले सार्वजनिक बयान में मूलर ने जोर देकर कहा कि उन्होंने ट्रंप को न्याय में अवरोध पैदा करने के अपराध से बरी नहीं किया, लेकिन किसी राष्ट्रपति को अपराध के लिए आरोपित करना ‘‘विकल्प’’ नहीं है.

मूलर ने कहा कि वह न्याय विभाग के इस विचार से बंधे हैं कि किसी राष्ट्रपति को पद पर रहते हुए आरोपित नहीं किया जा सकता. रूसी दखल की अपनी जांच को लेकर पहली बार सार्वजनिक तौर पर दिए गए बयान में मूलर ने बुधवार को कहा कि जब कोई व्यक्ति मुकदमे में अपना बचाव करने के लिए खड़ा ही नहीं हो सके तो उसे किसी संभावित अपराध के लिए आरोपित करना अनुचित होगा.

मूलर की आज की टिप्पणियां जांच को लेकर सार्वजनिक की गई रिपोर्ट के निष्कर्षों से मिलती-जुलती है. मूलर की रिपोर्ट से खुलासा हुआ है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रूसी दखल की जांच को नियंत्रित करने की कोशिश की और उन्होंने मूलर को जांच से हटवाने की कोशिश की ताकि वह इस पूरी छानबीन में अवरोध पैदा कर सकें.

विशेष वकील मूलर ने कहा कि रूसी दखल की जांच पूरी हो जाने के कारण अब वह न्याय विभाग छोड़ रहे हैं. इस बीच, राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि मूलर के पहले सार्वजनिक बयान में कुछ भी नया नहीं है और अब मामला ‘‘बंद’’ हो चुका है. ट्रंप ने ट्वीट किया, ‘‘मूलर की रिपोर्ट से कुछ नहीं बदलने वाला. साक्ष्य अपर्याप्त थे और इसलिए हमारे देश में व्यक्ति निर्दोष है. मामला बंद हो चुका है. शुक्रिया.’’