'सीरिया में अमेरिकी हवाई हमला, 33 बच्चों सहित आईएस लड़ाकों के 80 रिश्तेदार ढेर'

एक निगरानीकर्ता समूह के मुताबिक पूर्वी सीरिया के मायादीन कस्बे में शुक्रवार (26 मई) को तड़के अमेरिका के नेतृत्व वाले गठबंधन के हवाई हमले में इस्लामिक स्टेट समूह के लड़ाकों के कम से कम 80 रिश्तेदार मारे गये. 'सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स' के प्रमुख रामी अब्दुल रहमान ने कहा, 'मरने वालों में 33 बच्चे हैं. ये परिवार शहर की म्यूनिसिपल बिल्डिंग में शरण चाहते थे.'

'सीरिया में अमेरिकी हवाई हमला, 33 बच्चों सहित आईएस लड़ाकों के 80 रिश्तेदार ढेर'
आईएस लड़ाकों के ये परिवार शहर की म्यूनिसिपल बिल्डिंग में शरण चाहते थे. (फाइल फोटो)

बेरूत/जिनेवा: एक निगरानीकर्ता समूह के मुताबिक पूर्वी सीरिया के मायादीन कस्बे में शुक्रवार (26 मई) को तड़के अमेरिका के नेतृत्व वाले गठबंधन के हवाई हमले में इस्लामिक स्टेट समूह के लड़ाकों के कम से कम 80 रिश्तेदार मारे गये. 'सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स' के प्रमुख रामी अब्दुल रहमान ने कहा, 'मरने वालों में 33 बच्चे हैं. ये परिवार शहर की म्यूनिसिपल बिल्डिंग में शरण चाहते थे.'

आईएस ठिकानों को निशाना बनाने वाले देश नागरिकों को बचाएं : संरा

संयुक्त राष्ट्र ने सीरिया में जिहादी ठिकानों पर हवाई हमला करने वाले सभी देशों से शुक्रवार (26 मई) को आग्रह किया कि वे नागरिक इलाकों और सैन्य ठिकानों के बीच अंतर स्पष्ट करें. संयुक्त राष्ट्र की यह अपील उन खबरों के बाद आयी है जिनमें कहा गया था कि अमेरिका नीत गठबंधन के हमलों में दर्जनों नागरिकों की मौत हो गयी. सीरिया में 2014 से इस्लामिक स्टेट समूह के ठिकानों पर हवाई हमलों में सैंकड़ों नागरिकों की मौत हो चुकी है.

सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स के अनुसार गुरुवार (25 मई) को ऐसे ही एक हवाई हमले में कम से कम 35 नागरिकों की मौत हो गई. संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार प्रमुख जीद राआद अल हुसैन ने कहा कि आईएस विरोधी अभियानों में शामिल सभी देशों को नागरिक क्षेत्रों और सैन्य ठिकानों के बीच अंतर स्पष्ट करने की काफी आवश्यकता है.