पाकिस्तान में नैना को जबरन बनाया गया नूर फातिमा, पिता ने कहा- न्याय नहीं मिला तो आग लेंगे

पिछले महीने नैना का अपहरण कर लिया गया. अपहरण करने वाले लड़की को कराची लेकर गए और उससे शादी करके उसे इस्लाम धर्म अपनाने के लिए मजबूर किया. उसका नाम बदलकर नूर फातिमा कर दिया गया.

पाकिस्तान में नैना को जबरन बनाया गया नूर फातिमा, पिता ने कहा- न्याय नहीं मिला तो आग लेंगे
.(फाइल फोटो)

लाहौर: पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में एक दबंग मुस्लिम शख्स द्वारा एक हिन्दू किशोरी के अपहरण के बाद अल्पसंख्यक समुदाय में आक्रोश फैल गया है. लड़की की सुरक्षित रिहाई को लेकर दबाव बनाने के लिए हिन्दू समुदाय के लोग गुरुवार को धरना पर बैठ गए और शहर की मुख्य सड़क को अवरूद्ध कर दिया. बैनर और तख्तियां लिए हुए हिन्दू समुदाय के लोग लाहौर से करीब 400 किलोमीटर दूर रहीम यार खान में धरना पर बैठ गए और 17 वर्षीय लड़की को रिहा कराने की मांग करते हुए जबरन धर्मांतरण के खिलाफ नारेबाजी की.

थमिकी के मुताबिक ताहिर ताम्री ने अपने पिता और भाई की मदद से पिछले महीने नैना का अपहरण कर लिया. अपहरण करने वाले लड़की को कराची लेकर गए और उससे शादी करके उसे इस्लाम धर्म अपनाने के लिए मजबूर किया. उसका नाम बदलकर नूर फातिमा कर दिया गया. संदिग्धों ने उसके विवाह और इस्लाम अपनाने के बारे में सोशल मीडिया पर अपलोड किया.

हिन्दू समुदाय के लोग गुरुवार को लगातार दूसरे दिन सड़कों पर उतरे और नैना के अपहरण तथा जबरन धर्मांतरण के खिलाफ अपना विरोध जताया. प्रदर्शन के दौरान लड़की के पिता रघु राम ने धमकी दी कि अगर न्याय नहीं मिला तो वह खुद को आग लगा लेंगे. रहीम यार खान जिले में हिंदुओं के 1,50,000 घर हैं.

पुलिस के आला अधिकारियों ने आश्वस्त किया कि इंसाफ होगा जिसके बाद यह प्रदर्शन खत्म हुआ. रहीम यार खान के पुलिस प्रमुख उमर फारूक सलामत ने कहा कि लड़की को लाने के लिए पुलिस की एक टीम कराची गयी है.