इंडोनेशिया में आतंकी हमला; सीरियल ब्‍लास्‍ट और गोलीबारी से दहला जकार्ता, 7 लोगों की मौत

इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता गुरुवार को आतंकी हमलों के चलते दहल गई। जानकारी के अनुसार, जकार्ता में आज सुबह कई जगहों पर सीरियल बम ब्लास्ट हुए और गोलीबारी हुई। इन धमाकों और गोलीबारी में अब तक सात लोगों के मारे जाने की खबर है। 14 आतंकी (बंदूकधारी) शहर में घुस आए और बम धमाकों व गोलीबारी को अंजाम दिया।

इंडोनेशिया में आतंकी हमला; सीरियल ब्‍लास्‍ट और गोलीबारी से दहला जकार्ता, 7 लोगों की मौत

जकार्ता : इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता गुरुवार को आतंकी हमलों के चलते दहल गई। जानकारी के अनुसार, जकार्ता में आज सुबह कई जगहों पर सीरियल बम ब्लास्ट हुए और गोलीबारी हुई। कई जगहों पर अभी फायरिंग भी जारी रहने की खबर है। इन धमाकों और गोलीबारी में अब तक सात लोगों के मारे जाने की खबर है। 14 आतंकी (बंदूकधारी) शहर में घुस आए और बम धमाकों व गोलीबारी को अंजाम दिया।

जकार्ता में गुरुवार को हुए कई विस्फोटों और गोलीबारी में कम से कम सात लोगों की मौत हो गई, जबकि एक कैफे के बाहर गोलीबारी की आवाज सुनी गई। जकार्ता में यूएन दफ्तर समेत कई जगहों पर एक बाद एक करके ब्‍लास्‍ट हुए। जानकारी के अनुसार, 14 आतंकियों ने इन धमाकों को अंजाम दिया और खुलेआम गोलियां बरसाईं। जकार्ता में कुल सात धमाकों में अब तक सात लोगों की मौत हो चुकी है। मरने वालों में तीन पुलिसवाले और चार आम नागरिक हैं। जानकारी के अनुसार, एक बम धमाका जकार्ता के मध्‍य इलाके में संयुक्त राष्ट्र कार्यालय (यूएन दफ्तर) के बाहर हुआ है। एक अन्‍य स्‍थान पर हुए धमाके के दौरान मौजूद एक पुलिस अफसर की गोली मारकर हत्‍या कर दी गई। ताजा जानकारी के अनुसार, जवाबी कार्रवाई के दौरान 4 आत्‍मघाती हमलावर मारे गए हैं, जिनमें से तीन हमलावरों ने खुद को उड़ा लिया। 

 

इससे पहले, जकार्ता पुलिस ने बताया कि इस हमले में 10 से 14 हमलावरों के शामिल होने की आशंका है। हमलावर मोटरसाइकिल से आए और आते ही ग्रेनेड फेंकने लगे। यह हमला जिस जगह पर हुआ है वहां पर कई देशों के राजनयिक कार्यालय और बहुराष्ट्रीय कंपनियों के दफ्तर हैं।

बताया जा रहा है कि आतंकियों के निशाने पर यूएन दफतर था। वहीं, आतंकी संगठन आईएसआईएस पर इस हमले का शक जताया जा रहा है। गौर हो कि आईएसआईएस ने कुछ दिनों पहले जकार्ता पर हमले की धमकी दी थी, इसलिए इस आतंकी संगठन पर हमले का शक गहरा गया है। हालांकि अभी तक किसी ने हमले की जिम्‍मेवारी नहीं ली है। जकार्ता पुलिस को आशंका है कि मुख्‍य रूप से आतंकियों के निशाने पर विदेशी पर्यटक, विदेशी कार्यालय, विदेशी दूतावास, यूएन कार्यालय थे।

पुलिस और प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि विस्फोट सरिना नामक एक शॉपिंग सेंटर के पास हुआ जहां जमीन पर लाशें पड़ी थीं। एक संवाददाता ने बताया कि विस्फोट स्थल के कुछ ही दूरी पर एक पुलिस चौकी को भी नष्ट किया गया। इलाके के दायरे में कम से कम छह विस्फोट हुए। राष्ट्रीय पुलिस के प्रवक्ता एंतन चार्लियान ने बताया कि यह बम है। उन्होंने लोगों को दूर रहने की हिदायत दी और कहा कि वहां और बम हो सकते हैं।

इस बीच, इलाके की घेराबंदी कर दी गई है। हेलिकॉटर से वहां की निगरानी की जा रही है। मौके पर मौजूद अधिकारियों ने संवाददाताओं से ‘वापस जाने’ को कहा क्योंकि इमारत की छत पर एक ‘निशानेबाज’ है। पुलिस ने सड़क पर पड़े बुरी तरह जख्मी एक व्यक्ति को वहां से निकाला। उस व्यक्ति के शरीर से बुरी तरह खून बह रहा था। इस बीच, बुरी तरह क्षतिग्रस्त हुए स्टारबक्स कॉफी हाउस से करीब 25 मीटर के दायरे में जोर जोर से गोलियां चलने की आवाजें सुनाई दी। पुलिस धीरे धीरे व्यक्ति तक पहुंची और उसे वाहन के अंदर किया। अभी तक यह साफ नहीं हो पाया है कि हमले के पीछे किसका हाथ है।

नए साल के मौके पर पुलिस ने आतंकवादी हमले की चेतावनी जारी की थी और कहा था कि आतंकवादी नए साल के मौके पर जकार्ता पर आत्मघाती हमला करने की साजिश रच रहे हैं। इस चेतावनी से पहले पुलिस एक आतंकवादी हमले को नाकाम कर चुकी थी। पिछले ही महीने पुलिस ने चीन के उईगुर समुदाय के एक सदस्य सहित दो लोगों के साजिश में शामिल होने का दावा करते हुए उन्हें गिरफ्तार किया था।