ब्रिटेन: PM टेरीजा मे ने EU को दिया अल्टीमेटम, कहा- सम्मानपूर्वक पेश आएं

ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीजा मे ने यूरोपीय संघ को शुक्रवार को अल्टीमेटम दिया कि वह ब्रेग्जिट के लिए वैकल्पिक योजना लाए और वार्ता में ब्रिटेन के साथ सम्मानपूर्वक तरीके से पेश आए. 

ब्रिटेन: PM टेरीजा मे ने EU को दिया अल्टीमेटम, कहा- सम्मानपूर्वक पेश आएं
ब्रिटिश प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘मैं जनमत संग्रह के नतीजे को नहीं पलटने वाली.(फाइल फोटो)
Play

लंदन: ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीजा मे ने यूरोपीय संघ को शुक्रवार को अल्टीमेटम दिया कि वह ब्रेग्जिट के लिए वैकल्पिक योजना लाए और वार्ता में ब्रिटेन के साथ सम्मानपूर्वक तरीके से पेश आए. यूरोपीय परिषद के प्रमुख डोनाल्ड टस्क ने ऑस्ट्रिया के साल्जबर्ग में घोषणा की थी कि ब्रिटेन की ब्रेग्जिट योजना अव्यवहार्य है. इसके एक दिन बाद मे ने डाउनिंग स्ट्रीट से टेलीविजन पर यह बयान दिया. मे ने उनकी योजना को खारिज करने के लिए यूरोपीय संघ के नेताओं पर पलटवार करते हुए कहा कि यह ‘‘स्वीकार्य नहीं है. ’’

ब्रिटिश प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘मैं जनमत संग्रह के नतीजे को नहीं पलटने वाली और ना ही मैं अपने देश को तोडूंगी. ’’ उन्होंने कहा, ‘‘कल डोनाल्ड टस्क ने कहा था कि हमारे प्रस्तावों से एकल बाजार कमजोर होगा. उन्होंने विस्तार से इसके बारे में नहीं बताया या कोई जवाबी प्रस्ताव पेश नहीं किया. इसलिए वार्ता में गतिरोध है. ’’

टेरीजा मे ने कहा, ब्रिटेन 29 मार्च 2019 को रात 11 बजे यूरोपीय संघ से अलग हो जाएगा

उन्होंने कहा, ‘‘इस प्रक्रिया के दौरान मैंने यूरोपीय संघ के साथ सम्मानपूर्वक व्यवहार किया. ब्रिटेन भी ऐसी ही उम्मीद रखता है, इस प्रक्रिया के अंत में अच्छे संबंध इस पर निर्भर करते हैं. ’’ मे ने कहा, ‘‘वार्ता के इस स्तर पर विस्तृत स्पष्टीकरण और जवाबी प्रस्ताव दिए बगैर किसी दूसरे पक्ष के प्रस्ताव को खारिज कर देना स्वीकार्य नहीं है.

ब्रिटेन की पीएम टेरीजा मे बोलीं, दिवाली ने हिंदू संस्कृति को बेहतरीन तरीके से दिखाया है

हमें यूरोपीय संघ से जानने की जरुरत है कि असल मुद्दे क्या है और उनके विकल्प क्या हैं ताकि हम उन पर चर्चा कर सकें. तब तक हम उन पर प्रगति नहीं कर सकते. ’’ उन्होंने ब्रेग्जिट पर अपने रुख को दोहराया कि ‘‘बुरे समझौते से बेहतर है कि कोई समझौता ना हो. ’’ 

इनपुट भाषा से भी 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.