फ्रांस: आतंकी हमले की शिकार महिला ने मरने से पहले कही थी ये भावुक कर देने वाली बात

नीस शहर के चर्च नॉट्रे-डेम बेसिलिका में गुरुवार को एक प्रवासी ने 30 सेंटीमीटर के चाकू से वहां मौजूद लोगों को निशाना बनाया. इस हमले में तीन लोग मारे गए हैं.  

फ्रांस: आतंकी हमले की शिकार महिला ने मरने से पहले कही थी ये भावुक कर देने वाली बात

नीस: फ्रांस (France) के नीस शहर के एक चर्च में आतंकी हमले में तीन लोगों की मौत के बाद राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों (President Emmanuel Macron) ने कहा है कि उनका देश धार्मिक कट्टरपंथियों के खिलाफ मजबूती से खड़ा होगा. राष्ट्रपति ने देश में दूसरी बार हुए इस हमले को 'इस्लामी आतंक' (Islamic Terror) बताते हुए कहा कि फ्रांस अपने मूल्यों से कभी हार नहीं मानेगा. 

नीस शहर के चर्च नॉट्रे-डेम बेसिलिका में गुरुवार को एक प्रवासी ने 30 सेंटीमीटर के चाकू से वहां मौजूद लोगों को निशाना बनाया. इस हमले में 60 साल की एक महिला के साथ 55 साल के एक चर्च कर्मी का भी आतंकी ने गला काट दिया जिससे दोनों की मौत हो गई.  एक 44 साल की एक महिला भी इस हमले में घायल हो गई और भागकर एक रेस्टोरेन्ट में बचने के लिए घुसी लेकिन वह खुद को बचा नहीं पाई. आतंकी ने उसे भी निशाना बनाया और बुरी तरह से जख्मी कर दिया.

ये भी पढ़ें: 'इस्लामिक आतंक' के खिलाफ फ्रांस का महायुद्ध शुरू, इन बड़ी महाशक्तियों का मिला साथ

फ्रेन्च केबल चैनल BFM TV के अनुसार मरने से पहले महिला ने कहा, 'मेरे बच्चों से कहना. मैं उन्हें बहुत प्यार करती हूं.'

बता दें कि हमलावर की पहचान 21 वर्षीय ब्राहिम औइस्सौई के रूप में हुई है जो पिछले महीने इटली आने के बाद फिर वहां से फ्रांस आया था. ब्राहिम के पास कुरान की एक प्रति थी और उसके साथ तीन चाकू भी उसने रखे हुए थे. जब पुलिस ने उस पर गोली चलाई तब उसने धार्मिक नारा लगाया.

ये भी देखें-