योमिंग, वॉशिंगटन डीसी में ट्रंप की करारी हार, राष्ट्रपति पद की दौड़ को लेकर रस्साकशी तेज

रिपब्लिकन पार्टी में राष्ट्रपति पद के लिए अग्रणी उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप को उस समय झटका लगा जब वह अपने प्रतिद्वंद्वी टेड क्रूज और मारको रूबियो से अमेरिकी राजधानी और योमिंग में बुरी तरह परास्त हो गए। यह इस बात के संकेत हैं कि पार्टी की तरफ से नामांकन को लेकर संघर्ष कठिन हो गया है।

योमिंग, वॉशिंगटन डीसी में ट्रंप की करारी हार, राष्ट्रपति पद की दौड़ को लेकर रस्साकशी तेज

वॉशिंगटन: रिपब्लिकन पार्टी में राष्ट्रपति पद के लिए अग्रणी उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप को उस समय झटका लगा जब वह अपने प्रतिद्वंद्वी टेड क्रूज और मारको रूबियो से अमेरिकी राजधानी और योमिंग में बुरी तरह परास्त हो गए। यह इस बात के संकेत हैं कि पार्टी की तरफ से नामांकन को लेकर संघर्ष कठिन हो गया है।

व्हाइट हाउस के लिए ट्रंप की दौड़ में ठहराव लाते हुए रिपब्लिकन पार्टी से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी की दौड़ में शामिल सीनेटर क्रूज और रोबियो ने यामिंग और डिस्ट्रिक्ट ऑफ कोलंबिया में क्रमश: जीत दर्ज की।

इस प्रक्रिया में क्रूज को नौ प्रतिनिधियों का समर्थन हासिल हुआ और रूबियो को दस प्रतिनिधियों ने समर्थन दिया और अब उनकी नजर फ्लोरिडा, ओहायो, इलिनोइस, मिसौरी और नॉर्थ कैरोलिना में 15 मार्च को होने वाले वोट पर है।

रियल इस्टेट व्यवसायी 69 वर्षीय ट्रंप को वर्तमान में इस दौड़ में सबसे आगे माना जा रहा है क्योंकि उनके पास सबसे ज्यादा 460 प्रतिनिधि हैं जबकि क्रूज के पास 367, रूबियो के पास 153 और ओहायो के राज्यपाल जॉन कासिच को 63 प्रतिनिधियों का समर्थन हासिल है।

पार्टी की तरफ से राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनने के लिए कुल 2472 प्रतिनिधियों में से 1237 प्रतिनिधियों का समर्थन जरूरी है।