Zee Rozgar Samachar

तुर्की में 65 घंटे बाद मलबे से जिंदा निकली बच्ची, लोग बोले- 'चमत्कार'

ऐलिफ नाम की इस मासूम को भयानक भूकंप आने के 65 घंटे से अधिक समय के बाद जिंदा निकाल लिया गया. तुर्की के राष्ट्रपति एर्देऑन (Recep Tayyip Erdogan) ने इसे चमत्कार बताया है. 

तुर्की में 65 घंटे बाद मलबे से जिंदा निकली बच्ची, लोग बोले- 'चमत्कार'
भूकंप में तीन साल की मासूम के बचने पर लोगों ने ईश्वर को धन्यवाद दिया....

इस्तांबुल : 'जाको राखे साइयां, मार सके न कोय'. ये कहावत आपने कई बार सुनी होगी. देश में कई बार आपने ऐसा देखा भी होगा. ताजा मामले की बात करें तो तुर्की (Turkey) में भूकंप (Earthquake) के दिल दहला देने वाले शोरगुल के बीच एक राहत भरी तस्वीर सामने आई है. दरअसल यहां भूकंप में बिल्डिंग ढ़हने के 65 घंटे बाद मलबे के ढ़ेर से एक मासूम जीवित मिली. अब इस तीन साल की मासूम बच्ची की कहानी वायरल हो चुकी है.

देश ने माना चमत्कार
इजमिर (Izmir) शहर की एक बहुमंजिला इमारत के मलबे से तीन साल की बच्ची को जीवित बचा लिया गया. मासूम को भूकंप आने के 65 घंटे से अधिक समय के बाद जिंदा निकाल लिया गया. तुर्की के राष्ट्रपति एर्देऑन (Recep Tayyip Erdogan) ने इसे चमत्कार बताया है. तुर्की के स्वास्थ्य मंत्री फहार्टिन कोका के मुताबिक ऐलिफ मां और दो अन्य को बचा लिया गया था लेकिन इस भूकंप में उसके एक भाई की मौत हो गई. 

सैकड़ों आफ्टरशॉक्स
इजमिर के मेयर तुनक सोयेर के अनुसार इजमिर में विनाशकारी भूकंप से 20 इमारतें तबाह हो गईं. शहर में सबसे ज्यादा नुकसान बैराक्ली में हुआ. वहीं आपदा एजेंसी ने कहा कि भूकंप के बाद सैकड़ों आफ्टरशॉक्स दर्ज किए गए हैं जिनमें से 42 4.0 से ज्यादा मैग्नीट्यूड तीव्रता वाले थे. 

रिक्टर स्केल पर 7.0 तीव्रता
गौरतलब है कि तुर्की  में शुक्रवार को आए भूकंप के भयानक झटके के बाद तबाही मच गई थी. अमेरिकी संस्थान के मुताबिक भूकंप को रिक्टर स्केल पर 7.0 मापा गया. धरती के हिलने से ग्रीस और तुर्की के कई हिस्सों पर बेहद बुरा असर पड़ा. वहीं इस भूकंप का एपिसेंटर एजियर सागर में था.

इजमिर में ढह चुकी बहुमंजिला इमारत से तीन साल की बच्ची के जीवित बचने की खबर सामने आने के बाद स्थानीय लोग भी इसे चमत्कार बता रहे हैं. 

VIDEO

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.