close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

UAE ने जांच में जताया शक, टैंकर हमलों के पीछे हो सकता है किसी देश का हाथ

संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के साथ सऊदी अरब और नॉर्वे ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के समक्ष प्रारंभिक परिणाम पेश किए, जिसमें सामने आए तथ्य इस बात की ओर इशारा करते हैं कि इन हमलों के पीछे कोई देश हो सकता है.

UAE ने जांच में जताया शक, टैंकर हमलों के पीछे हो सकता है किसी देश का हाथ
चार हमले एक अत्याधुनिक एवं समन्वित अभियान का हिस्सा थे. (फाइल फोटो)

संयुक्त राष्ट्र: तेल टैंकरों पर 12 मई को हुए हमलों की संयुक्त अरब अमीरात की अगुवाई में चल रही जांच के शुरुआती परिणाम इशारा करते हैं कि इन विस्फोटों के पीछे किसी देश का हाथ था, लेकिन अभी इस बात का कोई सबूत नहीं मिला है कि इसमें ईरान की संलिप्तता थी. संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के साथ सऊदी अरब और नॉर्वे ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के समक्ष प्रारंभिक परिणाम पेश किए, जिसमें सामने आए तथ्य इस बात की ओर इशारा करते हैं कि इन हमलों के पीछे कोई देश हो सकता है.

परिषद के सामने जांच के अंतिम परिणाम भी पेश किए जाएंगे जिनके आधार पर आगे की कार्रवाई पर विचार किया जाएगा. बता दें अमेरिका ने ईरान पर अमीरात अपतटीय क्षेत्र में चार तेल टैंकरों पर हमले करने का आरोप लगाया है. यह हमला ऐसे समय हुआ जब तेहरान और वाशिंगटन के बीच तनाव बढ़ रहा है. ऐसे में अमेरिका ईरान पर शक जाहिर कर रहा है.

देखें लाइव टीवी

IGIA: यूएई जाने के लिए नेपाली युवती ने किया कुछ ऐसा, जान कर रह जाएंगे हैरान

वहीं यूएई, सऊदी अरब और नॉर्वे ने एक बयान में कहा कि, ''तेल टैंकरों पर हुए हमले की जांच अभी जारी है. हमले की जांच में जो तथ्य अभी तक सामने आए हैं वह इस ओर इशारा करते हैं कि चार हमले एक अत्याधुनिक एवं समन्वित अभियान का हिस्सा थे, जिसे किसी महत्वपूर्ण परिचालन क्षमता वाले तत्व ने अंजाम दिया, संभवत: यह तत्व कोई देश है.'' (इनपुटः भाषा)