close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कश्मीर पर फ्रांस-ब्रिटेन ने किया भारत के रुख का पूरा समर्थन, कहा - यह द्विपक्षीय मुद्दा है

ब्रिटेन और फ्रांस ने कश्मीर पर भारत के रुख का पूरी तरह से समर्थन किया है और इसे द्विपक्षीय मसला बताया है.

 कश्मीर पर फ्रांस-ब्रिटेन ने किया भारत के रुख का पूरा समर्थन, कहा - यह द्विपक्षीय मुद्दा है
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बोरिस जॉनसन के बीच कश्मीर के ताजा हालात पर बातचीत हुई

नई दिल्ली: ब्रिटेन और फ्रांस ने कश्मीर पर भारत के रुख का पूरी तरह से समर्थन किया है और इसे द्विपक्षीय मसला बताया है. दोनों देशों ने भारत-पाकिस्तान से बातचीत के जरिये इस मुद्दे को हल करने की अपील की है. दूसरी ओर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को ब्रिटेन के नए प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन से फोन पर बात की है.

प्रधानमंत्री ने लंदन में भारतीय मिशन के बाहर स्वतंत्रता दिवस समारोह में भाग ले रहे लोगों के साथ हिंसा का मुद्दा उठाया. बातचीत में लंदन दूतावास के बाहर कश्‍मीर के नाम पर खालिस्‍तान जैसे प्रदर्शन पर बातचीत की. पीएम मोदी की इस चिंता पर बोरिस जॉनसन ने खेद जताया. उन्‍होंने कहा कि वह भारतीय दूतावास की सुरक्षा को और पुख्‍ता किया जाएगा. उन्‍होंने पूरी सुरक्षा का भरोसा दिया है.

दर-दर भटक रहा पाकिस्तान, हर मुस्लिमों देशों के सामने गिड़गिड़ाए इमरान, नहीं मिला किसी का साथ

इसी बीच, पाकिस्तान ने विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने फ्रांस के विदेश मंत्री जीन-यवेस ले ड्रियान से कश्मीर का दुखड़ा रोया लेकिन उन्होंने साफ कहा कि यह द्विपक्षीय मामला है. ड्रियान ने कहा, "यह दोनों देशों के बीच पर निर्भर करता है कि वे कश्मीर के मसले को द्विपीक्ष वार्ता के जरिये कैसे निपटाते हैं." फ्रांस ने भारत-पाकिस्तान से तनाव करने की अपील की.