संयुक्त राष्ट्र महासचिव ने की 'ऐतिहासिक' कोरिया शिखर वार्ता की तारीफ, ट्रंप ने दी किम-मून को बधाई

दक्षिण कोरिया, उत्तर कोरिया ने ऐतिहासिक शिखर बैठक में परमाणु निरस्त्रीकरण को लेकर जताई प्रतिबद्धता

संयुक्त राष्ट्र महासचिव ने की 'ऐतिहासिक' कोरिया शिखर वार्ता की तारीफ, ट्रंप ने दी किम-मून को बधाई
पनमुंजोम में एक साथ उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन और दक्षिण कोरियाई नेता मून जेई-इन. (Reuters/28 April, 2018)

संयुक्त राष्ट्र/वॉशिंगटन: संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुतारेस ने उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के नेताओं के बीच ‘‘ऐतिहासिक शिखर वार्ता’’ की तारीफ की है. गुतारेस ने उम्मीद जताई कि दोनों देशों के बीच ईमानदार संवाद और कोरियाई प्रायद्वीप के परमाणु निरस्त्रीकरण सहित जिन चीजों पर सहमति बनी है वे उन पर तेजी से कदम उठाएंगे. महासचिव के प्रवक्ता स्टीफेन दुजारिक ने एक बयान में कहा, ‘महासचिव ने वाकई ऐतिहासिक शिखर वार्ता की तारीफ की है .... कोरियाई प्रायद्वीप में सद्भाव और शांति कायम करने के मकसद से दोनों नेताओं के साथ आने की प्रभावशाली तस्वीरों से दुनिया में कई लोग प्रभावित हुए हैं.’

ट्रंप ने ऐतिहासिक वार्ता पर कोरियाई नेताओं को दी बधाई
वहीं दूसरी ओर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कोरियाई नेताओं को उनकी ऐतिहासिक वार्ता पर बधाई देते हुए कहा कि वह कोरियाई प्रायद्वीप में ‘पूर्ण परमाणु निरस्त्रीकरण’ उनके लक्ष्य से प्रोत्साहित हैं. व्हाइट हाउस में जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल के साथ एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में ट्रंप ने कहा, ‘मैं रिपब्लिक ऑफ कोरिया को उत्तर कोरिया के साथ उनकी ऐतिहासिक वार्ता के लिए शुभकामनाएं देना चाहता हूं और हम दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति मून जेई-इन के कोरियाई प्रायद्वीप में पूर्ण परमाणु निरस्त्रीकरण के मंत्र से प्रोत्साहित हैं. मैं आगामी सप्ताहों में किम जोंग-उन से मुलाकात करने वाला हूं. हम उसको लेकर उत्साहित हैं और उम्मीद करते हैं कि वह कामयाब रहेगी.’

उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन और दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति मून जेई-इन ने शुक्रवार (27 अप्रैल) को अंतर कोरियाई शिखर वार्ता के दौरान कोरियाई प्रायद्वीप में एक स्थायी शांति समझौते और पूर्ण परमाणु निरस्त्रीकरण पर सहमति जतायी थी. ट्रंप ने उत्तर कोरिया पर अधिकतम दबाव अभियान में साथ देने के लिए एंजेला का भी शुक्रिया अदा किया.

दक्षिण कोरिया, उत्तर कोरिया ने ऐतिहासिक शिखर बैठक में परमाणु निरस्त्रीकरण को लेकर जताई प्रतिबद्धता
उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के नेता शुक्रवार (27 अप्रैल) को एक ऐतिहासिक शिखर बैठक में स्थायी शांति समझौता और विभाजित प्रायद्वीप के पूर्ण निरस्त्रीकरण की दिशा में आगे बढ़ने को लेकर सहमत हुए. उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जेई-इन ने पनमुंजोम घोषणा पर हस्ताक्षर करने के बाद एक दूसरे को गले लगा लिया. दोनों नेताओं ने एक बयान जारी कर, ‘पूर्ण निरस्त्रीकरण और परमाणु मुक्त कोरियाई प्रायद्वीप के साझा लक्ष्य को प्राप्त करने की प्रतिबद्धता जताई.’

उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जेई-इन ने इस बात पर भी सहमति जताई कि वे कोरियाई युद्ध के स्थायी समाधान की दिशा में इस साल प्रयास करेंगे और इसके सैन्य हल के बजाए शांतिपूर्ण संधि से इसे खत्म करने की दिशा में पहल की जाएगी. दोनों नेताओं ने ‘‘नियमित बैठकों और सीधे फोन वार्ता’’ करने पर भी सहमति जताई.