चीन में कार्यकर्ताओं, वकीलों पर झूठे मामले चलाकर उन्हें बंदी बनाया जा रहा: UN

उन्होंने कहा कि हांगकांग में विरोध प्रदर्शन में भाग लेने के लिए छह सौ से ज्यादा लोगों की जांच की जा रही है. चीन के शिनजियांग में मुस्लिम उइगर समुदाय और अन्य लोगों को हिरासत केंद्र में रखे जाने से कई महीनों से वैश्विक समुदाय में रोष है लेकिन बैशलेट के कार्यालय और चीनी अधिकारियों के बीच बैशलेट की यात्रा को लेकर सहमति नहीं बन पाई है.

चीन में कार्यकर्ताओं, वकीलों पर झूठे मामले चलाकर उन्हें बंदी बनाया जा रहा: UN
चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग की फाइल फोटो: Reuters

जिनेवा: संयुक्त राष्ट्र ने चीन पर मानवाधिकार उल्लंघन के गंभीर आरोप लगाए हैं. यूएन मानवाधिकार परिषद ने कहा है कि चीन के शिनजियांग क्षेत्र में मानवाधिकार की स्थिति की 'स्वतंत्र और व्यापक' समीक्षा किये जाने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि चीन में कार्यकर्ताओं, वकीलों और मानवाधिकार के रक्षकों पर झूठे मामले चलाकर उन्हें बंदी बनाया जा रहा है. संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयुक्त मिचशेल बैशलेट ने कहा कि उनका कार्यालय, शिनजियांग की यात्रा पर जाने के लिए 'कॉमन मिनिमम प्रोग्राम' पर काम कर रहा है.

नागरिक स्वतंत्रता हनन पर जताई चिंता

बैशलेट ने सितंबर 2018 में मानवाधिकार आयुक्त का पद संभाला था. और उन्होंने उनके पद संभालने से पहले से ही शिनजियांग यात्रा की योजना बनाई जा रही थी. विश्व भर में मानवाधिकार की स्थिति पर संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद को अपना नियमित ब्योरा देते हुए बैशलेट ने चीन (China) के विषय पर चर्चा की. उन्होंने कोविड-19 की रोकथाम के लिए चीन की सराहना की, लेकिन यह भी कहा कि 'राष्ट्रीय सुरक्षा और कोविड-19 के नाम पर मौलिक अधिकार और नागरिक स्वतंत्रता का हनन किया जा रहा है.'

VIDEO

ये भी पढ़ें: Assembly Election 2021: चुनाव की तारीखों का ऐलान होते ही बिफर पड़ा विपक्ष, BJP ने भी दिया करारा जवाब

बैशलेट की यात्रा को लेकर नहीं बन पाई सहमति

उन्होंने कहा कि हांगकांग में विरोध प्रदर्शन में भाग लेने के लिए छह सौ से ज्यादा लोगों की जांच की जा रही है. चीन के शिनजियांग में मुस्लिम उइगर समुदाय और अन्य लोगों को हिरासत केंद्र में रखे जाने से कई महीनों से वैश्विक समुदाय में रोष है लेकिन बैशलेट के कार्यालय और चीनी अधिकारियों के बीच बैशलेट की यात्रा को लेकर सहमति नहीं बन पाई है.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.