H-1B Visa पर US से आई खबर: चुनिंदा Foreign Guest Workers फिर से सबमिट कर सकेंगे Applications

सिटीजनशिप एंड इमिग्रेशन सर्विसेज (USCIS) ने कहा कि सभी आवेदन 1 अक्टूबर, 2021 से पहले सबमिट किए जाने चाहिए. 2020 में, USCIS ने H-1B कैप के लिए इलेक्ट्रॉनिक पंजीकरण प्रक्रिया शुरू की थी. इसके तहत, H-1B कैप संबंधी पिटिशन दायर करने वालों को पहले इलेक्ट्रॉनिक रूप से पंजीकरण करना होगा.

H-1B Visa पर US से आई खबर: चुनिंदा Foreign Guest Workers फिर से सबमिट कर सकेंगे Applications
फाइल फोटो

वॉशिंगटन: अमेरिका से H-1B वीजा (US H-1B Visa) को लेकर अच्छी खबर आई है. एक फेडरल यूएस बॉडी ने बुधवार को कहा कि वह विदेशी गेस्ट वर्कर्स (Foreign Guest Workers) को फिर से एच-1B वीजा आवेदन सबमिट करने की अनुमति देगी. हालांकि, केवल ऐसी ही एप्लीकेशन मान्य होंगी, जिन्हें पहले किसी कारणवश अस्वीकार कर दिया गया था. बता दें कि H-1B वीजा अमेरिकी कंपनियों को ऐसे विशेष व्यवसायों में विदेशी श्रमिकों को नियुक्त करने की अनुमति देता है, जिनके लिए सैद्धांतिक या तकनीकी विशेषज्ञता की आवश्यकता होती है. आईटी कंपनियां भारत और चीन जैसे देशों से हर साल हजारों कर्मियों को काम पर रखने के लिए इस पर निर्भर हैं.

फिर से भरनी होगी Fees

यूएस सिटिजनशिप एंड इमिग्रेशन सर्विसेज (USCIS) के अनुसार, केवल वही विदेशी प्रोफेशनल आवेदन पुन: जमा कर सकते हैं, जिनके आवेदन को पहले खारिज किया जा चुका है या उन पर प्रशासनिक रूप से रोक लगा दी गई थी, क्योंकि अनुरोधित प्रारंभ तिथि 1 अक्टूबर, 2020 के बाद की थी. USCIS ने बताया कि यदि किसी व्यक्ति का वित्तीय वर्ष 2021 का आवेदन पूरी तरह खारिज कर दिया गया था या प्रशासनिक रूप से रोक दिया गया था, तो वह सभी लागू शुल्क के साथ फिर से आवेदन कर सकता है.

ये भी पढ़ें -Corona की चिंता में बेकाबू हुई Rodrigo Duterte की जुबान, कहा -‘Vaccine नहीं लगवाने वाले India या US जाएं’

इस Date से पहले करें सबमिट

USCIS ने कहा कि सभी आवेदन 1 अक्टूबर, 2021 से पहले सबमिट किए जाने चाहिए. इससे पहले, 2020 में, यूएस सिटीजनशिप एंड इमिग्रेशन सर्विसेज ने H-1B कैप के लिए इलेक्ट्रॉनिक पंजीकरण प्रक्रिया शुरू की थी. इसके तहत, H-1B कैप संबंधी पिटिशन दायर करने वालों को पहले इलेक्ट्रॉनिक रूप से पंजीकरण करना होगा और प्रत्येक लाभार्थी के लिए 10 डॉलर H-1B पंजीकरण शुल्क का भुगतान करना होगा. USCIS का कहना है कि इलेक्ट्रॉनिक प्रक्रिया से काम काफी आसान हो गया है.  

US Chamber ने की ये अपील

USCIS द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि कुछ आवेदकों ने प्रारंभ तिथि को लेकर गलती की थी, जिसकी वजह से उनकी एप्लीकेशन खारिज हुई थी. वहीं, यूएस चैंबर ऑफ कॉमर्स ने अमेरिका में कुशल और पेशेवर कर्मचारियों की भारी कमी को दूर करने के लिए जो बाइडेन प्रशासन से एच-1बी वीजा की संख्या को दोगुना करने और ग्रीन कार्ड पर प्रति देश कोटा को खत्म करने का आग्रह किया है.

‘Skills से लैस करना चाहिए’

यूएस चैंबर रोजगार-आधारित वीजा पर सीमा को दोगुना करने, एच-1बी और एच-2बी वीजा के कोटा को दोगुना करने और कानूनी आव्रजन प्रणाली में अन्य सुधारों को लागू करने की मांग कर रहा है, ताकि नियोक्ताओं को श्रम-संकट वाले क्षेत्रों में रोजगार की उच्च मांग को पूरा करने में मदद मिल सके. चैंबर की अध्यक्ष और सीईओ सुजैन क्लार्क ने कहा कि हमें श्रमिकों को उनके आवश्यक कौशल से लैस करना चाहिए और हमें उच्च-मांग वाली नौकरियों को भरने में मदद करने के लिए दुनियाभर से सबसे अच्छे लोगों की भर्ती करनी चाहिए, 

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.