चीन के खिलाफ ताइवान को मजबूत कर रहा अमेरिका, देगा 135 मिसाइल समेत कई घातक हथियार

अमेरिका और ताइवान के बीच हथियारों की इस प्रस्तावित डील के बाद चीन के साथ रिश्ते (US-China Relation) और ज्यादा खराब हो सकते हैं.

चीन के खिलाफ ताइवान को मजबूत कर रहा अमेरिका, देगा 135 मिसाइल समेत कई घातक हथियार
प्रतीकात्मक तस्वीर

वाशिंगटन: चीन (China) के साथ जारी तनाव के बीच अमेरिकी प्रशासन ने ताइवान को 1 अरब डॉलर यानि करीब 7300 करोड़ रुपये के घातक हथियारों की बिक्री (US-Taiwan Weaponry Deal) की मंजूरी दे दी है. अमेरिका के इस फैसले से चीन नाराज हो सकता है, जो पहले ही व्यापार, तिब्बत और हॉन्गकॉन्ग जैसे मुद्दों पर उग्र है. इस डील के जरिए अमेरिका, ताइवान को चीन के खिलाफ मजबूत करना चाहता है.

सतह पर मार करने वाली मिसाइलें देगा अमेरिका
इस डील के तहत अमेरिका सतह पर मार करने वाली 135 मिसाइल और उपकरण ताइवान को देगा. ये मिसाइलें बोइंग (Boeing) द्वारा बनाई गई हैं. इसके साथ ही अमेरिका रक्षा क्षमताओं में सुधार के लिए ताइवान की सेना को प्रशिक्षण भी देगा, जिस पर विदेश मंत्रालय ने मुहर लगा दी है. बयान में कहा गया कि यह पैकेज एक बिलियन डॉलर से अधिक का है.

बढ़ेगी ताइवान की सुरक्षा और राजनीतिक स्थिरता
एक बयान में कहा गया, "इस प्रस्तावित डील से ताइवान (Taiwan) को सैन्य संतुलन और आर्थिक प्रगति के साथ-साथ अपनी सुरक्षा को बेहतर बनाने और राजनीतिक स्थिरता बनाए रखने में मदद मिलेगी. ताइवान इस डील से सतह पर होने वाले हमलों का मुकाबला करने या प्रतिरोध करने में सक्षम होगा."

ये भी पढ़ें- जो कभी नहीं हुआ वो होने जा रहा इस बार, ड्रैगन पर होगा चौतरफा प्रहार

अमेरिका-चीन के रिश्ते और हो सकते हैं खराब
ट्रंप प्रशासन ने ताइवान को लेकर इस साल बेहद आक्रामक रुख अख्तियार किया है और इन हथियारों की डील के बाद चीन के साथ उसके रिश्ते (US-China Relation) और ज्यादा खराब हो सकते हैं. क्योंकि चीन ने पहले भी ताइवान द्वारा अमेरिकी हथियारों की खरीद पर उग्र प्रतिक्रिया दी थी.

LIVE टीवी

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.