US Election: क्या बिडेन के खिलाफ डोनाल्ड ट्रंप का ‘ब्रह्मास्त्र’ हैं अमेरिकी रैपर कान्ये वेस्ट?

अमेरिकी राष्ट्रपति पद की दौड़ (US Presidential election) में यूं तो असल मुकाबला डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) और जो बिडेन (Democratic candidate Joe Biden) के बीच है, लेकिन एक शख्स ऐसा भी है जिसकी दावेदारी ने सबको चौंका दिया है. उस शख्स का नाम है कान्ये वेस्ट (Kanye West).

US Election: क्या बिडेन के खिलाफ डोनाल्ड ट्रंप का ‘ब्रह्मास्त्र’ हैं अमेरिकी रैपर कान्ये वेस्ट?
फाइल फोटो

वॉशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति पद की दौड़ (US Presidential election) में यूं तो असल मुकाबला डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) और जो बिडेन (Democratic candidate Joe Biden) के बीच है, लेकिन एक शख्स ऐसा भी है जिसकी दावेदारी ने सबको चौंका दिया है. उस शख्स का नाम है कान्ये वेस्ट (Kanye West). इस अमेरिकी रैपर ने हाल ही में एक वीडियो जारी कर लोगों से उन्हें वोट देने की अपील की है.

कान्ये वेस्ट ने पूर्व में भी चुनाव लड़ने की बात कही थी, लेकिन किसी ने उन्हें गंभीरता से नहीं लिया. हालांकि, अब यह साफ हो गया है कि वो चुनावी मैदान में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं. कान्ये ने बाकायदा एक वीडियो जारी करके अपने विजन के बारे में बताया है.

सोची-समझी रणनीति

अमेरिकी रैपर को मौजूदा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का समर्थक माना जाता है. लिहाजा, राजनीति के जानकारों का मानना है कि कान्ये वेस्ट को एक सोची-समझी रणनीति के तहत मैदान में उतारा गया है. कान्ये अमेरिका के अश्वेत समुदाय में खासे लोकप्रिय हैं, जो कि ट्रंप के प्रतिद्वंद्वी बिडेन का वोट बैंक समझा जा रहा है. ऐसे में यदि कान्ये कुछ अश्वेत वोट हासिल कर पाते हैं, तो इसका फायदा सीधे तौर पर डोनाल्ड ट्रंप को मिलेगा.

ट्रंप से नाराज हैं लोग
अब तक जितने भी सर्वेक्षण आये हैं, उनमें से अधिकांश में जो बिडेन के जीतने की संभावना व्यक्त की गई है. कोरोना सहित कई मुद्दों को लेकर लोगों में ट्रंप के प्रति नाराजगी है. इसके अलावा, पिछले कुछ समय से ट्रंप को लेकर लगातार हो रहे खुलासों ने भी उनकी छवि को प्रभावित किया है. कहीं न कहीं डोनाल्ड ट्रंप खुद भी इस सच्चाई को स्वीकार करते हैं. यही वजह है कि जानकर कान्ये वेस्ट को ट्रंप की रणनीति के हिस्से के रूप में देख रहे हैं.

...तो काटेंगे बिडेन के वोट
कान्ये यदि अपनी लोकप्रियता के चलते कुछ वोट हासिल करने में कामयाब रहते हैं, तो इसका सीधा अर्थ होगा जो बिडेन को मिलने वाले वोटों में कटौती. जिसका फायदा निश्चित रूप से डोनाल्ड ट्रंप को मिलेगा. कान्ये अपने चुनावी अभियान पर जमकर पैसा खर्च कर रहे हैं. एक अनुमान के मुताबिक, उन्होंने अपने कैंपेन पर अब तक 58 लाख डॉलर खर्च किए हैं. उनकी वेबसाइट पर भी हुडी, हैट और टी-शर्ट आदि बेची जा रही हैं.